इतिहास के पन्नों में 12 फ़रवरी

  • 12 फरवरी 2012

अगर इतिहास के पन्नों को पलटकर देखें तो पाएंगे कि 12 फ़रवरी के दिन ही अमरीकी कांग्रेस ने इराक़ के ख़िलाफ़ ताक़त के इस्तेमाल को मंज़ूरी दी थी और मशहूर लेखिका अगथा क्रस्टी की मौत हो गई थी.

1991: इराक़ के ख़िलाफ़ कार्रवाई को मंजूरी

Image caption पहले इराक़ युद्ध ने सद्दाम हुसैन की ताक़त को बहुत कम कर दिया था.

अमरीका के निचले सदन ने कुवैत में इराक़ी क़ब्ज़े को ख़त्म करने के लिए इराक़ के ख़िलाफ़ सैन्य कार्रवाई को मंज़ूरी दे दी थी.

संयुक्त राष्ट्र ने इराक़ के राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन से कहा था कि वो या तो 15 जनवरी तक कुवैत से वापस जाएं या उनके ख़िलाफ़ सैनिक कार्रवाई की जाएगी.

तीन दिन की लंबी बहस के बाद, जो कई बार ज़रूरत से ज़्यादा गरमा गरम हो गई थी; प्रतिनिधि सभा ने प्रस्ताव को 250 वोटों से पारित कर दिया. प्रस्ताव के ख़िलाफ़ 183 मत डाले गए थे.

टोंकिन की ख़ाड़ी मामले में 1964 में पारित प्रस्ताव के बाद ये दूसरा मौका था जब कांग्रेस ने सैन्य कार्रवाई को मंज़ूरी दी थी.

साल 1964 में पास किया गया प्रस्ताव वियतनाम युद्ध के समय का था.

प्रस्ताव के पारित होने के बाद राष्ट्रपति बुश ने कहा कि "ये शांति के लिए आख़िरी सबसे बेहतर मौक़ा है" और इससे इराक़ को "सीधा संदेश मिलेगा कि वो 15 जनवरी की समय सीमा का मख़ौल नहीं उड़ा सकता."

1976: मशहूर लेखिका अगथा क्रिस्टी की मृत्यु

Image caption अगथा क्रिस्टी आज भी उतनी ही लोकप्रिय हैं.

अपने किताबों की तीस करोड़ प्रतियां बेचनेवाली विश्व प्रसिद्ध लेखिका अगथा क्रिस्टी की 85 साल की उम्र में मौत हो गई थी.

उनकी मौत वैलिंगफ़ोर्ड के उनके निवास स्थान पर हुई. वो काफ़ी दिनों से बीमार चल रही थीं.

उनके आदर में लंदन के दो मशहूर थियेटरों ने शाम में रोशनी धीमी कर दीं. इनमें से एक में उनकी एक कृति पर आधारित 'द माउसट्रैप' पिछले 24 सालों से जारी था.

दूसरे थियेटर में 'मर्डर एट द विसारेज' का दो सौंवा प्रदर्शन हो रहा था.

कहा जा रहा था कि उन्होंने अपने पीछे एक और उपन्यास छोड़ा है जो प्रकाशित नहीं हुआ है.

अगथा क्रिस्टी ने 83 किताबें लिखी थीं, जिसमें उपन्यास, लघु कथा, कविताएं और नाटक शामिल थे.

उन्होंने एक समय नर्स के तौर पर भी काम किया था जिस दौरान उन्हें बहुत क़िस्म के ज़हर के बारे में जानकारी मिली. इसका ज़िक्र बाद में उनके उन उपन्यासों में हुआ जो अपराध से जुड़े थे.

हालांकि उनकी संपत्ति को लेकर अलग-अलग आंकड़े दिए जाते रहे लेकिन 1950 के दशक में उनकी सालाना आय एक लाख पाउंड हुआ करती थी.

संबंधित समाचार