चावेज़ के ख़िलाफ़ उम्मीदवार चुना गया

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption वेनेज़्वेला में अक्तूबर में राष्ट्रपति चुनाव होने हैं

वेनेज़्वेला में प्राथमिक चुनाव में जीत दर्ज कर हेनरीक केपरिलेस ने इस वर्ष होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में ह्यूगो चावेज़ को चुनौती देने का अधिकार प्राप्त कर लिया है.

रविवार को पूरे देश में हुआ प्राथमिक चुनाव देश के इतिहास में इस तरह का पहला चुनाव था. इस मतदान में तीस लाख लोगों ने भाग लिया जो कि संभावना से कहीं ज़्यादा था.

हेनरीक केपरिलेस ने करीब दो तिहाई मत लेकर प्रभावशाली जीत दर्ज की है. अब अक्तूबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में इस युवा वकील का मुकाबला राष्ट्रपति चावेज़ से होगा.

विपक्षी दल इस चुनाव में हुए भारी मतदान से काफ़ी ख़ुश हैं. इस ऐतिहासिक चुनाव में लोगों ने घंटों मतदान केंद्रों के बाहर कतार बना कर अपनी बारी का इंतेज़ार किया.

पहली बार वेनेज़्वेला के विपक्षी गठबंधन ने सार्वजनिक चुनाव के बाद राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार चुना है.अधिकारियों ने मतदान के समय को बढ़ा दिया ताकि सभी लोग अपने वोट डाल सकें.

इस प्राथमिक चुनाव में प्रचार बहुत ही शालीन ढ़ंग से किया गया और हारने वाले लोगों ने जीत के बाद तुरंत केपरिलेस को बधाई दी. अब वह अपने सारे मतभेद भुला कर ह्यूगो चावेज़ के ख़िलाफ़ मतों की लड़ाई में उनका साथ देंगे.

राष्ट्रपति चावेज़ को हराना इतना आसान नहीं होगा. वह एक करिश्माई नेता हैं और पिछले 13 सालों से सत्ता में हैं. लेकिन अब विपक्ष ने बाक़ायदा मतदान के ज़रिए अपना उम्मीदवार चुना है और उनका मानना है कि उनके पास राष्ट्रपति चुनाव जीतने का बेहतरीन मौका है.

संबंधित समाचार