'यूरोज़ोन अर्थव्यवस्था पर मंदी का साया'

  • 24 फरवरी 2012
ग्रीस

यूरोपीय संघ ने कहा है कि यूरोज़ोन मुद्रा का इस्तेमाल करने वाले देशों की अर्थव्यवस्था में साल 2012 के दौरान मंदी आएगी.

हालांकि यूरोपीय संघ के मुताबिक़ अर्थव्यवस्था में गिरावट की दर मामूली 0.3 प्रतिशत रहेगी.

संघ ने नवंबर में अर्थव्यवस्था में 0.5 फ़ीसद बढ़ोतरी की बात कही थी.

कमीशन ने कहा है, "साल 2011 के अंत में अर्थव्यवस्था में बेहतरी रूक गई जिसका असर 2012 के पहले के हिस्से में देखने को मिलेगा."

हालांकि उसका कहना है कि इसका प्रभाव संघ के सभी 27-सदस्य देशों पर नहीं होगा जबकि यूरो मुद्रा का इस्तेमाल करने वाले 17 देशों में मामूली मंदी रहेगी.

ग्रीस

यूरोज़ोन पर सबसे अधिक प्रभाव ग्रीस की अर्थव्यवस्था का होगा जिसमें चालू वर्ष में 4.4 फ़ीसद गिरावट आने की आशंका जताई जा रही है.

नवंबर में जारी बयान में भी की संघ ने ग्रीस और पुर्तगाल में अर्थव्यवस्था में गिरावट की बात कही थी.

अब संघ ने मंदी की चपेट में आनेवालों की श्रेणी में बेल्जियम, स्पेन, इटली, साईप्रस, द नीदरलैंड और स्लोवेनिया को जोड़ दिया है.

प्रभाव

यूरोपीय संघ की अर्थव्यवस्था और मौद्रिक क्षेत्र के कमिश्नर ओली रेह्न कहते हैं कि हालांकि बढ़ोतरी रूक गई है लेकिन हमें यूरोपीय अर्थव्यवस्था में ठहराव की उम्मीद है.

वित्तीय क्षेत्र के जानकार नोर्वेल लॉफ़्टेस कहते हैं, "हम कह सकते हैं कि अच्छी अर्थव्यवस्था वाले जर्मनी जैसे देश भी ग्रीस और दूसरे मुल्कों के प्रभाव को नहीं रोक पाएंगे जिसका असर बढ़ोतरी पर पड़ेगा."

कमिश्नर ओली रेह्न कहते हैं कि यूरोप में उठाए जा रहे कई क़दम अर्थव्यवस्था की गति धीमी कर रहे होंगे लेकिन वो भविष्य में स्थायित्व और विकास के लिए ज़रूरी है.

संबंधित समाचार