सीरिया पर वैश्विक बैठक, अन्नान बने विशेष दूत

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption अन्नान को सीरिया में विशेष दूत बनाया गया है. तस्वीर गेटी

सीरिया के बिगड़ते हाल पर शुक्रवार को ट्यूनिस में वैश्विक बैठक हो रही है. माना जा रहा है कि इस बैठक में सीरिया में तुरंत संघर्ष विराम की मांग की जाएगी ताकि वहां तत्काल मदद पंहुचाई जा सके.

इस बीच संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान को सीरिया में संयुक्त राष्ट्र और अरब लीग का विशेष दूत नियुक्त किया गया है.

संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि अन्नान की नियुक्ति सीरिया के लोगों के लिए एक अहम वक्त पर हुई है और इसका मकसद हिंसा और मानवाधिकार उल्लंघन को खत्म करना है.

बैठक

इस वैश्विक बैठक में अमरीका, पश्चिमी देशों और अरब देश सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद से मांग करेंगे की वो सीरिया में संघर्ष से सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों में मानवीय सहायता दे.

सीरिया पर दबाव बढ़ता जा रहा है कि वो होम्स में फंसे हुए नागरिकों को मदद दे.

माना जा रहा है कि इस बैठक में शामिल देश सीरिया पर घोषणा की सहमति देंगे और तुरंत संघर्ष विराम और मानवीय सहायता की मांग करेंगे. ऐसा नहीं करने पर सीरिया पर और प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव भी आ सकता है.

इस बीच गुरुवार को भी सीरियाई सेना ने विरोधियों के ठिकानों पर हमले किए हैं.

कार्यकर्ताओं का कहना है कि गुरुवार को सीरिया में 50 से 60 लोगों की मौत हो गई है.

इस बैठक में करीब 70 देश हिस्सा ले रहे हैं. लेकिन अरब लीग द्वारा आयोजित इस वैश्विक बैठक में चीन और रूस हिस्सा नहीं ले रहे हैं.

इससे पहले सीरिया पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव का रूस और चीन ने विरोध किया था जिसकी वजह से पश्चिमी देशों में उनकी आलोचना हुई है.

संबंधित समाचार