'9/11 के साजिशकर्ताओं' पर मुकदमा चलेगा

खालिद शेख मोहम्मद
Image caption खालिद शेख मोहम्मद ग्वांतानामो बे में बंद हैं

अमरीका ने औपचारिक रूप से 11 सितंबर के हमले की साजिश रचने के मामले में अल कायदा के पाँच संदिग्ध चरपमंथियों पर मुकदमा चलाने का फैसला किया है.

इन पाँच लोगों में 9/11 हमले का कथित मास्टरमाइंड खालिद शेख मोहम्मद भी शामिल हैं. पाँचों को ग्वांतानामो बे में रखा गया है.

एक सैनिक आयोग इस मामले की सुनवाई करेगा. इन लोगों के खिलाफ आतंकवाद, विमान अपहरण, साजिश, हत्या और संपत्ति के नुकसान का मामला चलाया जाएगा.

पेंटागन ने इसकी पुष्टि की है कि अगर ये सभी दोषी पाए गए, तो इन्हें मौत की सजा हो सकती है.

पेंटागन का कहना है कि खालिद शेख मोहम्मद और चार अन्य वलीद बिन अताश, रम्जी बिनालशिब, अली अब्दुल अजीज अली और मुस्तफा अहमद अल हवसावी के खिलाफ एक साथ मुकदमा चलाए जाने की उम्मीद है.

आरोप

इन लोगों के खिलाफ 11 सितंबर 2001 को अमरीका पर आतंकवादी हमले की साजिश रचने और उसे अंजाम देने का आरोप है. उस दौरान अपहृत विमानों से न्यूयॉर्क, वॉशिंगटन, शांक्सविले और पेन्सिलवेनिया पर हमले हुए थे.

इन हमलों में कुल 2976 लोग मारे गए थे. इन पाँचों लोगों पर कहाँ मुकदमा चलेगा, इसे लेकर लंबी कानूनी लड़ाई चली और फिर इसे सैनिक आयोग को भेजने का फैसला हुआ.

ओबामा प्रशासन ने शुरू में अमरीकी नागरिक अदालत में ये मामला चलाने की कोशिश की थी. लेकिन काफी विरोध के बाद पिछले साल अप्रैल में अपना फैसला बदल दिया.

पिछले साल जून में इन पाँच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ. इन लोगों पर करीब करीब वही मामले लगाए गए हैं, जो बुश प्रशासन के दौरान उन पर आरोप थे.

वर्ष 2009 में अमरीका के राष्ट्रपति बने बराक ओबामा ने वादा किया था कि वे ग्वांतानामो बे को बंद कर देंगे और संदिग्ध शीर्ष आतंकवादियों के खिलाफ मामले नागरिक अदालतों में चलाए जाएँगे.

लेकिन विरोध के बाद उन्हें ग्वांतानामो बे को बंद करने की योजना रद्द करनी पड़ी थी.

संबंधित समाचार