हाफिज पर इनाम का पूरा संबंध मुंबई से: अमरीका

  • 4 अप्रैल 2012
हाफिज सईद इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption हाफिज सईद पाकिस्तान में कई जगहों पर दौरा कर बिना रोक-टोक भाषण देते हैं

अमरीकी विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वह प्रतिबंधित संगठन लश्करे तैयबा के हाफिज सईद की गिरफ्तारी के मुद्दे पर पाकिस्तान की सरकार के साथ संपर्क में है और गिरफ्तारी के लिए इनाम पूरी तरह मुंबई धमाकों से संबंधित है.

अमरीकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता वोक्टोरिया नूलैंड ने मुंबई हमलों के तीन साल बाद हाफिज सईद की गिरफ्तारी पर इमान रखने पर स्पष्टी करण देते हुए कहा कि अमरीका ने पाकिस्तान को बताया है कि उसकी विशेष जिम्मेदारी है कि वह पूरे मामले की जाँच करे और जहां तक संभव हो, दोषियों को सजा दिलाए.

उन्होंने ये भी कहा कि पाकिस्तान की सरकार ने लगातार वादा किया है कि वह अपनी प्रतिबद्धताएँ निभाएगी और अमरीका को उम्मीद है वो ऐसा करेगा.

अमरीका ने प्रतिबंधित चरमपंथी संगठन जमात उद दावा के प्रमुख हाफिज सईद पर करीब 50 करोड़ रुपए (एक करोड़ डॉलर) का इनाम रखा है.

भारत सरकार लगातार आरोप लगाती रही है कि हाफिज सईद 26/11 को मुंबई पर हुए हमले का कथित 'मास्टरमाइंड' है. वर्ष 2008 में हुए इस हमले में 160 से अधिक लोग मारे गए थे.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption हाफिज सईद पर एक करोड़ डॉलर का इनाम रखा गया है

इससे पहले पाकिस्तान के गृह मंत्री रहमान मलिक ने कहा था कि पाकिस्तान को औपचारिक तौर पर सूचित नहीं किया गया है और अगर यह खबर सही है तो वे अमरीका से पूछ सकते हैं कि उन्होंने किस आधार पर हाफिज सईद की गिरफ्तारी पर इनाम रखा है.

जब अमरीकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता से पूछा गया कि इनाम की घोषणा अब क्यों हुई है, तो उनका कहना था कि इस बात का आकलन लगाया जाता है कि यदि इनाम की घोषणा हुई तो क्या उसका कोई नतीजा निकलेगा.

उनका कहना था, "ये अमरीकी कर दाता की काफी बड़ी राशि है...कई बार किसी घटना के एकदम बाद इनाम की घोषणा हो जाती है और कई बार कुछ देर बाद होती है. आप सभी को पता है कि ये व्यक्ति टीवी पर भी नजर आता है और कई बार काफी निर्भीक होकर बोलता है...इस मामले का संबंध नैटो से नहीं है बल्कि पूरी तरह से मुंबई धमाकों से है."

संबंधित समाचार