कद्दू को उठाने के लिए हेलिकॉप्टर चाहिए !

  • 10 अप्रैल 2012
विकराल कद्दू
Image caption बेवन कहते हैं पौधों से बात करना फायदेमंद रहता है.

लंबी-लंबी लौकियाँ और मोटी मोटी मूलियाँ तो आपने जरूर देखी होंगी, लेकिन क्या कभी इतने भारी कद्दू देखे हैं जिन्हें उठाने के लिए हेलिकॉप्टर की जरूरत पड़े?

मलेशिया के जंगलों में एक किसान ने ये संभव कर दिखाया है.

इंग्लैंड के नॉर्थैम्प्टनशैर के क्लाइव बेवन ने ऐसे कद्दू उगाने में सफलता पाई है.

एक एक कद्दू पाँच फ़ुट से ज्यादा ऊँचा है और उसका वजन लगभग डेढ़ सौ किलो तक है.

यानी अगर ट्रक या ठेलों पर लाद कर इन्हें बाजार ले जाना हो तो आप समझ सकते हैं कि काम कितना भारी हो जाएगा.

नए प्रयोग

क्लाइल बेवन को मोटी और भारी सब्जियाँ उगाने का शौक है. उन्होंने इंग्लैंड में अपने छोटे से खेत में ये प्रयोग पहले भी किया.

इसके बाद मलेशिया के कुछ महत्वपूर्ण लोगों ने उनसे संपर्क किया और अपने यहाँ सब्जियाँ उगाने के लिए आमंत्रित किया.

उनका कहना है कई कद्दू तो कुर्सियों से भी बड़े हैं और उन्हें लादने के लिए हेलिकॉप्टर की जरूरत पड़ेगी.

बेवन ने कहा, “मलेशिया के जंगलों की आबोहवा बड़े पौधे उगाने के लिए काफी अनुकूल है.”

'बात कीजिए'

दिलचस्प बात ये है कि बेवन की उगाई सब्जियों का उपयोग खाने के अलावा दूसरे कामों के लिए भी हुआ है.

बड़े बड़े ट्रकों से कद्दू पिचकाने के खेल में उनकी सब्जियों का इस्तेमाल किया गया है.

बेवन कहते हैं, "इन सब्जियों के कारण मैं कई दिलचस्प जगहों पर गया हूँ."

चीन के कुछ राजनेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल दो साल पहले बेवन से मिला और उनसे जानना चाहा कि आख़िर इतनी भारी सब्जियाँ उगाने की तरकीब क्या है.

बेवन ने कई तरकीबें बताईं लेकिन कहा कि पौधों से बात करने से काफी फायदा होता है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार