गर्ल फ्रेंड को जानबूझ कर अंधा किया

  • 14 अप्रैल 2012
Image caption प्रेमी की क्रूरता की शिकार टीना नैश

एक व्यक्ति ने जिसने अपनी महिला मित्र की आँखें निकालकर उसे अंधा कर दिया था, माना है कि उसने ऐसा जानबूझ कर किया था.

ब्रिटेन के कोर्नवाल के 33 वर्षीय शेन जेंकिन को, दो बच्चों की 31 वर्षीय माँ टीना नैश का जबड़ा और नाक तोड़ने के आरोप में पिछले साल 20 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था.

अदालत को बताया गया कि जैंकिन पहले भी टीना पर हमला कर चुके थे. हमले के बारह घंटे बाद तक उन्होंने टीना को बंधक बनाए रखा. हाँलाकि इन दोनों के बीच मार पीट की घटनाएं अकसर होती थीं, फिर भी टीना नैश ने पुलिस को बताया कि वह जेंकिन को बदलना चाहती थी.

उसने यह भी स्वीकार किया कि जेंकिन द्वारा पहले कई बार की गई मारपीट के बारे में पुलिस को न बता कर उसने उन्हें बचाने की कोशिश की थी.

अप्रैल में हुए इस क्रूर हमले के बाद टीना नैश की आँखों की रोशनी बचाने की कोशिश की गई थी लेकिन उसमें सफलता नहीं मिल पाई थी और टीना पूरी तरह से अंधी हो गई थीं.

सबसे कीमती चीज छीनी

उनका कहना था, इस हमले के बाद उन्हें लगा कि जैसे उन्हें "जिंदा दफनाया जा रहा है. मुझे लग रहा था कि जब वह मेरा गला घोंट रहा था, वह मेरी हत्या करने की कोशिश कर रहा था."

टीना ने यह भी कहा,"उसने मुझसे सब कुछ छीन लिया, यहाँ तक कि मेरी सबसे कीमती चीज.... मेरी दृष्टि भी."

टीना ने यह भी जानकारी दी कि हमले के बाद जेंकिन ने उसे ही इसके लिए जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा, "वह कह रहा था यह सब तुम्हारी वजह से हुआ है, इसके कारण मुझे सालों जेल में रहना पड़ सकता है."

इस पर टीना का कहना था कि उसे इस बात की खुशी है कि कम से कम उसने मेरे जीवन को हमेशा के लिए बदलने की जिम्मेदारी तो अपने ऊपर ली.

भयावह मामला

इस मामले की जाँच कर रहे इंस्पेक्टर क्रिस स्टिकलैंड का कहना था कि अब तक उन्होंने इस तरह के चौंकाने वाले मामले की जाँच नहीं की है. यह एक निस्सहाय महिला पर पहले से सोच समझ कर किया गया हमला था.

हमारा मानना है, "जेंकिन ने जानबूझ कर टीना का गला घोंट कर उसे बेहोश कर दिया ताकि वह उस पर इस तरह के भीषण वार कर सके."

उन्होंने यह भी कहा, "उनकी चोटें इतनी भयावह थी कि इस घटना के तुरंत बाद जो दोस्त उन्हें देखने आए, वह कमरे में ज्यादा देर तक नहीं रुक पाए."

इंस्पेक्टर स्ट्रिकलैंड का कहना था कि टीना नैश के अपने शोषक को बचाने और बदलने के प्रयासों में कुछ भी असामान्य नहीं था. "दुर्भाग्य से इस तरह की चीजें कई बार होती हैं क्योंकि पीड़ित लोग अक्सर सकारात्मक और अच्छे लोग होते हैं."

जेंकिन को अगले महीने सजा सुनाई जाने वाली है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार