अपनी सेक्रेटरी से कम टैक्स देते हैं ओबामा

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption अमरीकी चुनाव में आर्थिक मुद्दों के छाए रहने की उम्मीद है

व्हाइट हाउस की तरफ से राष्ट्रपति बराक ओबामा की वर्ष 2011 की टैक्स रिटर्न की जानकारी सार्वजनिक की है.

जानकारी के मुताबिक ओबामा को 7,90,000 डॉलर की आमदनी हुई जिस पर उन्होंने 20.5 प्रतिशत कर दिया है. ये उनकी सेक्रेटरी की टैक्स दर से कम है.

हाल ही में राष्ट्रपति ओबामा ने कहा कि अमीर अमरीकियों से ज्यादा टैक्स वसूला जाना चाहिए. इस साल नवंबर में होने वाले अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में ओबामा टैक्स को बड़ा मुद्दा बनाना चाहते हैं.

विश्लेषकों के मुताबिक ओबामा राष्ट्रपति चुनाव में अपने रिपब्लिकन प्रतिद्वंद्वी मिट रोमनी पर निशाना साध रहे हैं.

ओबामा यह जताना चाहते हैं कि बेहद अमीर और कारोबारी पृष्ठभूमि वाले मिट रोमनी को आम लोगों की आर्थिक परेशानियों से कोई सरोकार नहीं है.

सेक्रेटरी से कम टैक्स

जिस दिन ओबामा ने अपनी टैक्स जानकारी जारी की, उसी दिन रोमनी के खेमे ने कहा कि उनके उम्मीदवार ने 2011 के लिए विस्तारित टैक्स रिटर्न फाइल किया है.

माना जा रहा है कि रोमनी वर्ष 2011 के लिए 2.09 करोड़ डॉलर की आमदनी पर 15.4 प्रतिशत की दर से टैक्स चुकाएंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption अब यह तकरीबन साफ हो चुका है कि राष्ट्रपति चुनाव में रोमनी ही ओबामा को टक्कर देंगे

संवाददाताओं के मुताबिक रोमनी अपनी आमदनी के हिसाब से कम टैक्स देते हैं क्योंकि अमरीकी व्यवस्था में निवेश से होने वाली आमदनी पर वेतन से होने वाली आमदनी के मुकाबले कम टैक्स देना होता है.

व्हाइट हाउस की तरफ से जारी जानकारी के मुताबिक ओबामा की 789,674 डॉलर की आमदनी में आधा हिस्सा राष्ट्रपति के वेतन से आया है, जबकि बाकी रकम उनकी लिखी किताबों की ब्रिकी से मिली.

ओबामा और उनकी डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता इस बात की पैरवी कर रहे हैं कि अमीर लोगों से उनकी आदमनी के हिसाब से "वाजिब टैक्स" वसूला जाना चाहिए. जल्द ही अमरीकी सीनेट में तथाकथित "बफेट रूल" प्रस्ताव पर मतदान होने वाला है.

इस प्रस्ताव का नाम करोड़पति निवेशक वॉरेन बफेट के नाम पर रखा गया है. इसमें 10 लाख डॉलर से ज्यादा कमाने वालों पर कम से कम 30 प्रतिशत की दर से टैक्स लगाने की बात कही गई है.

बफेट अक्सर कहते हैं कि वह अपनी आमदनी के हिसाब से अपनी सेक्रेटरी से भी कम टैक्स देते हैं.

व्हाइट हाउस ने भी इस बात की पुष्टि की है कि ओबामा भी अपनी सेक्रेटरी से कम कर देते हैं. इसीलिए अमरीकी कर व्यवस्था में सुधारों की जरूरत महसूस की जा रही है.

संबंधित समाचार