खुफिया अधिकारियों ने ली 'वेश्याओं की सेवाएँ'

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption राष्ट्रपति ओबामा ने कहा है कि घटना की कड़ी जांच की जाए

अमरीका की सीक्रेट सर्विसेज यानी खुफिया विभाग के कुछ अधिकारियों पर कोलंबिया में राष्ट्रपति बराक ओबामा की यात्रा की पूर्व संध्या पर वेश्याओं की सेवाएं लेने के आरोप लगे हैं.

अमरीका के सेना प्रमुख ने कहा है कि कोलंबिया में कुछ खुफिया अधिकारियों पर वेश्याओं की सेवाएं लेने के आरोप 'शर्मनाक' हैं.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा पिछले हफ्ते कोलंबिया के शहर कार्टाहेना में एक सम्मेलन में हिस्सा लेना था, जिसके दौरान उनके खुफिया अधिकारियों और कुछ सनिकों पर ये आरोप लगे हैं.

खुफिया अधिकारियों और सेना के कर्मचारियों से अभद्र व्यवहार पर पूछताछ की गई है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सेना के कम से कम 10 सदस्यों के खिलाफ जांच चल रही है.

इसके अलावा 11 खुफिया अधिकारियों को निलंबित कर घर भेज दिया गया है.

'भरोसा तोड़ा'

पेंटागन में एक संवाददाता सम्मेलन में अमरीका के ज्वाइंट चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ मार्टिन डेंप्सी ने कहा, "हम शर्मसार हैं."

जनरल डेंप्सी ने कहा कि इस घटना से लोगों का ध्यान अमरीकी राष्ट्रपति की बैठक से हट गया.

उन्होंने कहा, "हमारे राष्ट्रपति के लिए ये बैठक इस इलाके के लिए अहम थी और हमने उससे सबका ध्यान हटा दिया. हमने अपने राष्ट्रपति का भरोसा तोड़ा है क्योंकि सिवाए इस घटना के कोई भी ये बात नहीं कर रहा कि कोलंबिया की बैठक में क्या हुआ."

रविवार को राष्ट्रपति ओबामा ने कहा था कि वो इस घटना की गहरी जांच की उम्मीद रखते हैं.

उन्होंने कहा, "प्रेस में जो बातें कही जा रही है अगर वो सच साबित होती हैं तो सचमुच मुझे गुस्सा आएगा."

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक कार्टाहेना में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कम से कम एक खुफिया एजेंट ने एक वेश्या को अपने होटल के कमरे में ले जाने की कोशिश की और उसका नाम होटल के रिसेप्शन पर गेस्ट की सूची में नहीं लिखवाया.

एक अमरीकी सुरक्षा अधिकारी के मुताबिक इस घटना में जिन अधिकारियों पर आरोप लगे हैं वो सीधी तौर पर राष्ट्रपति ओबामा की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार नहीं थे.

संबंधित समाचार