वेश्यावृत्ति के मामले में तीन अमरीकी अधिकारी बर्खास्त

ख़ुफ़िया विभाग की कार इमेज कॉपीरइट afp
Image caption अमरीकी सांसद इस मामले को सुरक्षा चूक से जोड़ रहे हैं

अमरीकी सीक्रेट सर्विस यानी ख़ुफ़िया सेवा के तीन सदस्यों को बर्खास्त कर दिया गया है.

हाल ही में कोलंबिया में उजागर हुए वेश्यावृत्ति कांड के बाद ये कदम उठाया गया है.

अमरीकी राष्ट्रपति की सुरक्षा का जिम्मा संभालने वाली इस एजेंसी के सहायक निदेशक पॉल मॉरिसे ने बताया कि एक वरिष्ठ कर्मचारी सेवानिवृत्त होगा जबकि एक से कहा गया है कि उसे बर्खास्त किया जाएगा. तीसरे एजेंट ने इस्तीफा दे दिया है.

अमरीकी सांसदों का कहना है कि सीक्रेट सर्विस की टीम के होटल में वेश्यावृत्ति करने वाली महिलाओं को बुलाया जाना सुरक्षा को लेकर जोखिम उठाना है.

वरिष्ठ अमरीकी अधिकारियों का कहना है कि पिछले सप्ताहांत अमरीकी देशों के शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए राष्ट्रपति बराक ओबामा के दौर से पहले कोलंबिया में कार्ताजेना के होटल में 20 महिलाएँ पाई गईं.

इस मामले की जांच चल रही है जिसमें झूठ पकड़ने वाली मशीन की मदद भी ली जा रही है.

'पूरी छानबीन का भरोसा'

आंतरिक जांचकर्ताओं ने कार्ताजेना में बहुत से प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ की. आरोप हैं कि वहां अमरीकी सीक्रेट सर्विस के कुछ एजेंटों और सैन्य कर्मियों ने उसी होटल में वेश्याओं के साथ रात बिताई जिसमें अमरीकी प्रतिनिधिमंडल ठहरा हुआ था.

इस मामले में अमरीकी सेना के कम से कम 12 सदस्यों के खिलाफ जांच चल रही है.

मॉरिसे ने एक बयान में कहा, “हम चाहते हैं कि हमारे सभी कर्मचारी सर्वोच्च पेशेवर और नैतिक मानकों के मुताबिक चलें और हम इस मामले की पूरी तरह समीक्षा के लिए वचनबद्ध हैं.”

उन्होंने बताया कि ये जांच अभी शुरुआती दौर में है और आठ अन्य अफसरों की भी छानबीन हो रही है.

इस बीच व्हाइट हाउस ने कहा है कि उसे पूरा विश्वास है कि सीक्रेट सर्विस के निदेशक पूरे मामले की छानबीन करेंगे और उन्होंने तुरंत इस मामले पर ध्यान दिया है.

संबंधित समाचार