फेसबुक पर पोस्ट के लिए पैसे देने का परीक्षण

फेसबुक इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption फिलहाल ये परीक्षण सिर्फ न्यूज़ीलैंड में चल रहा है.

फ़ेसबुक ने एक ऐसे सिस्टम का परीक्षण शुरू कर दिया है जिसमें इसे इस्तेमाल करने वालों को अपने 'पोस्ट' प्रसारित करने के लिए पैसे देने होंगे.

एक छोटी से रकम देकर फ़ेसबुक इस्तेमाल करने वाले ये सुनिश्चित कर सकते हैं कि उनकी टिप्पणियां, तस्वीरें या अन्य कंटेंट उनके दोस्तों, परिवार और सहकर्मियों को अधिक दिखें.

फ़ेसबुक ये परीक्षण न्यूज़ीलैंड में कर रहा है.

फेसबुक का कहना है कि उनके इस कदम का उद्देश्य ये पता लगाना है कि क्या उनकी सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट का इस्तेमाल करने वाले अपनी टिप्पणियों को प्रमुखता से दिखाने के लिए पैसे देने में दिलचस्पी रखेंगे.

टिप्पणी के लिए पैसे

न्यूज़ीलैंड के पत्रिका ‘स्टफ’ के अनुसार इस परीक्षण के बारे में सबसे पहले न्यूज़ीलैंड के एक फ़ेसबुक इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति को पता चला.

पत्रिका के अनुसार इस्तेमाल करने वाले ने पहले सोचा कि कोई उन्हें मूर्ख बनाने का प्रयास कर रहा है.

फेसबुक के एक प्रवक्ता ने बीबीसी को बताया है कि टिप्पणी के लिए पैसे स्वीकार करने की पेशकश वास्तविक है.

फेसबुक के प्रवक्ता ने कहा, “हम अपनी साइट पर कई नए फ़ीचर का परीक्षण करते रहते हैं. इस परीक्षण का सीधा मकसद लोगों द्वारा अपने दोस्तों के साथ टिप्पणिया आदि शेयर करने के तरीकों को समझना है. ”

प्रवक्ता ने कहा कि टिप्पणियों को प्रमुखता देने के लिए कई तरीकों पर परीक्षण किया जा रहा है.

टिप्पणियों को प्रमुखता से दिखाने के लिए लोगों को 12 रुपए से लेकर सौ रूपए तक अदा करने पढ़ सकते हैं.

संबंधित समाचार