ओलंपिक में कर्णभेदी यंत्र करेंगे सुरक्षा

सुरक्षा उपकरण इमेज कॉपीरइट

ब्रिटेन की सरकार ने लंदन ओलंपिक खेलों के दौरान सुरक्षा बनाए रखने के लिए ध्वनि हथियारों के प्रयोग की अनुमति दी है.

ये ध्वनि हथियार लाउडस्पीकर की तरह इस्तेमाल किए जाएँगे.

दरअसल इस हथियार से ऐसी तीखी आवाज़ निकाली जा सकती है जिसे सुनने वाला दर्द से बिलबिला जाए.

मगर इसके साथ साथ इस यंत्र का इस्तेमाल दूर दूर तक प्रसारण करने और भीड़ को निर्देश देने के लिए भी किया जा सकता है.

इसे लंदन की टेम्स नदी में वेस्टमिंस्टर के पास एक नौका में लगाया गया है.

ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता का कहना है कि मूलत: इसे लाउडस्पीकर की तरह ही प्रयोग में लाया जाएगा.

भीड़ नियंत्रण

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption ब्रितानी सरकार ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं.

पर इस उपकरण से कानफाड़ू आवाज़ें भी निकाली जा सकती है.

जानकारों का कहना है कि इस यंत्र से कान छेद डालने वाली आवाज़ को आसानी से दिशा दी जा सकती है.

यानी अगर कहीं पर भीड़ बेकाबू हो रही हो तो उसकी तरफ इस यंत्र का मुख करके आवाज़ें निकाली जाएँगी.

फिर वहाँ पर टिकना किसी के बूते की बात नहीं रहेगी.

ये यंत्र सेन दियागो की एक कंपनी ने बनाया है.

अमरीकी सेना इसका इस्तेमाल इराक़ में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कर चुकी है.

इसके अलावा अमरीकी जल और वायु सेना भी इसे खरीदते हैं, साथ ही दुनिया भर के कई पुलिस विभाग भी इसका इस्तेमाल करते हैं.

यहाँ तक कि सोमालिया के समुद्री लुटेरों को भगाने के लिए भी इस ध्वनि-यंत्र का सफल प्रयोग किया जा चुका है.

संबंधित समाचार