'आत्महत्या करने वाले' नग्न पुतले

  • 13 मई 2012
इमेज कॉपीरइट AP
Image caption पिछले साल ऐसे ही पुतले न्यू यॉर्क में लगने से काफी बवाल हुआ था

सौ फीट ऊंची एक इमारत के ऊपरी छोर पर एक नग्न आदमी परेशान सा खड़ा हुआ दिखता है.

राह चलते लोगों की नज़र जब उस पर पड़ती है, तो अचंभे में उनका मुंह खुला रह जाता है.

“ये क्या है...एक आदमी? नहीं....तो फिर क्या है?” आते-जाते लोग घबराहट में एक दूसरे से यही सवाल करते और उनकी नज़रें उस ऊंची इमारत पर टिकी रहती जिसके अंतिम छोर पर एक ‘आदमी’ खड़ा है.

लोगों को लगता है कि वो आत्महत्या करने वाला है और किसी भी क्षण कूदने को तैयार है.

लेकिन जब पुलिस को बुलाया जाता है, तो पता चलता है कि इमारत के ऊपर आदमी जैसा दिखने वाला एक पुतला खड़ा है!

समाचार एजेंसी असोसिएटिड प्रेस के मुताबिक लोहे और फाइबर ग्लास से बना ये पुतला ब्राज़ील के शहर साओ पालो की कई ऊंची इमारतों के ऊपर लगाया गया है.

विवादित पुतले

ये पुतले ब्रितानी शिल्पकार एंटोनी गोर्मले ने बनाए हैं, जिनके नाम टर्नर पुरस्कार के अलावा भी बहुत से अवार्ड भी हैं.

ये पुतले गोर्मले के ही शरीर पर आधारित हैं. कुछ पुतलों की बाज़ुएं थोड़ी मुड़ी हुई है, तो कुछ की बांहे एक दम सीधी हैं. इसलिए ये देखने में आम आदमी की तरह ही लगते हैं.

ऐसा ही एक पुतला लगा है ‘अ बांको डो ब्राज़ील’ नाम की 25 मंज़िला इमारत पर. इमारत की रिसेप्शनिस्ट ने एपी को बताया, “कुछ दिनों पहले कुछ हैरान-परेशान लोगों ने इमारत के ऊपर ये पुतला देखा तो उन्होंने पुलिस को फोन घुमा दिया. उन्हें लगा कि इमारत पर खड़ा आदमी आत्महत्या करने वाला है.”

गोर्मली के बनाए हुए ऐसे ही पुतले पिछले साल जब न्यू यॉर्क में लगाए गए थे, तो वहां भी लोगों की प्रतिक्रिया कुछ ऐसी ही थी.

लेकिन न्यू यॉर्क में चूंकि 9/11 की यादें ताज़ा थी, तो वहां ऐसे पुतले लगाए जाने पर लोगों ने गहरा रोष व्यक्त किया था.

ब्राज़ील के शहरों को अंतरराष्ट्रीय सर्वेक्षणों में सबसे ख़ुशनुमा पाया जाता है. ऐसे में लोगों की प्रतिक्रिया काफी निराशाजनक भी है.

संबंधित समाचार