डेनमार्क ने हॉलैंड को स्तब्ध किया

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption टीम का जोश बढ़ाते डेनमार्क के समर्थक

कई बड़े खिलाड़ियों से भरी हॉलैंड की टीम यूरो 2012 में एक बड़े उलटफेर का शिकार हो गई जब डेनमार्क की टीम ने उसे 1-0 से हरा दिया.

डच टीम ने डेनमार्क के गोल पर कुल 29 शॉट लगाए लेकिन गोल करने के सबसे नजदीक वह उस समय पहुँचे जब अर्जेन रोबेन का शॉट गोल पोस्ट से टकरा कर रह गया.

डेनमार्क ने खेल के ऱुख के खिलाफ मिशेल क्रोन डेलही के गोल के जरिए 24वें मिनट में बढ़त बनाई जिस को उन्होंने अंत तक बनाए रखा.

उन्होंने हॉलैंड के स्थिर रक्षण को छकाते हुए गोली मार्टिन स्टेकेलेनबर्ग के पैरों के बीच से गेंद गोल में सरका दी.

1992 में जर्मनी को हरा कर यूरोपीय चैंपियनशिप जीतने के बाद डेनमार्क की यह जीत उनकी अब तक की सबसे यादगार जीत थी.

गोलकीपर स्टीफेन एंडरसन का कमाल

डेनमार्क के गोलकीपर स्टीफेन एंडरसन ने कई मौकों पर शानदार रक्षण कर अपने देश को हॉलैंड के ऊपर 1992 के सेमीफाइनल के बाद की सबसे बड़ी जीत दिलवाई.

खेल के अंतिम क्षणों में ऐसा लगा कि पेनल्टी क्षेत्र में डेनमार्क के लार्स जैकबसन के हाथ में गेद लगी है लेकिन रेफरी ने पेनल्टी की अपील को नज़रअंदाज़ कर दिया.

रोबेन, वेन पर्सी इब्राहीम अफ़ेले ने मिल कर कई मौके बनाए लेकिन उनकी फ़िनिशिंग ने उन्हें धोका दिया और गोल पर एंडरसन टस से मस न हुए.

मध्यांतर से दो मिनट पहले वेसले स्नाइडर ने वेन पर्सी को सेंटर दिया लेकिन वह आसान गोल मारने के बजाए गोलकीपर को ही गेंद थमा बैठे.

अगर डेनमार्क एक मैच और जीत जाता है तो वह क्वार्टर फाइनल में पहुँच जाएगा जबकि हॉलैंड को ग्रुप ऑफ़ डेथ कहे जाने वाले ग्रुप में आगे बढ़ने के लिए जर्मनी या पुर्तगाल या दोनों को हराना होगा जो कि उनके लिए आसान नहीं होगा.

जर्मनी पुर्तगाल पर भारी पड़ा

एक दूसरे मैच में जर्मनी ने पुर्तगाल को 1-0 से हरा कर अपने अभियान की शानदार शुरुआत की. 72 वें मिनट में समी खदीरा के क्रॉस पर मारियो गोमेज़ ने हेडर लगा कर जर्मनी को आगे कर दिया. इस बढ़त को उन्होंने अंत तक बनाए रखा.

पुर्तगाल के कप्तान क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने फीका खेल दिखाया. उनको मार्क कर रहे जर्मन खिलाड़ी जेरोम बोआटिंग उन पर भारी पड़े.

रोनाल्डो अपने क्लब रियाल मेड्रिड के लिए तो अक्सर अच्छा खेलते हैं लेकिन बड़े मैचों में अपने देश के लिए वह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाते और यही चीज जर्मनी के खिलाफ इस मैच में भी दिखाई दी.

संबंधित समाचार