बयान लेने गए वकील हिरासत में

सैफ उल इस्लाम
Image caption सैफ उन इस्लाम को पिछले साल नवंबर में कैद में लिया गया था

लीबिया में सैफ अल-इस्लाम से मिलने गए अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायालय के चार अधिकारियों को हिरासत में ले लिया गया है.

अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायालय या आईसीसी के अध्यक्ष सिंग ह्युंग सोंग ने लीबिया से आग्रह किया है कि वो तत्काल इन अधिकारियों को आजाद करें.

आईसीसी के अनुसार यह अधिकारी सात जून से सैफ अल-इस्लाम के कब्जे में हैं. इन लोगों में वह वकील भी शामिल हैं जो आईसीसी की तरफ से गद्दाफी के बचाव के लिए नियुक्त किए गए हैं.

आईसीसी के चार अधिकारियों का यह समूह छह जून को सैफ अल इस्लाम से मिलने के लिए जिन्तैन गया था.

इन्हें उस वक़्त पकड़ लिया गया था जब वो सैफ अल इस्लाम को कथित रूप से कुछ खतरनाक कागजात देने की कोशिश कर रहे थे.

आईसीसी की तरफ से जारी बयान में कहा गया है, "हम हिरासत में लिए गए लोगों की सुरक्षा के प्रति बहुत ही चिंतित हैं, खास तौर पर इसलिए कि हमारा उन अधिकारियों से कोई संपर्क नहीं हो पा रहा है."

आईसीसी अध्यक्ष के अनुसार, "इन चार अधिकारियों को अंतर्राष्ट्रीय कानूनों की शरण प्राप्त है. मैं लीबिया के अधिकारीयों से आग्रह करता हूँ की इन लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करें और इन्हें तत्काल आजाद करें."

विवादित दस्तावेज

सैफ अल-इस्लाम को पिछले साल नवंबर में उस वक़्त कैद में लिया गया था जब वो देश छोड़ कर भागने की कोशिश कर रहे थे. आईसीसी में उनके खिलाफ मानवता के विरुद्ध काम करने के लिए मुकदमा चलाया जा रहा है.

हालाँकि यह मुकदमा हेग में चलाया जाना है लेकिन नवंबर से लेकर अब तक लीबिया की सरकार ने सैफ अल-इस्लाम को वहां नहीं भेजा. लीबिया की सरकार का कहना है कि सैफ अल-इस्लाम पर मुकदमा लीबिया की अदालत में चलेगा.

जिन लोगों ने आईसीसी के अधिकारियों को हिरासत में ले रखा है उनका दावा है कि उन्होंने कई कागजात बरामद किए हैं जिनमें सैफ अल-इस्लाम को लिखा उनके एक पुराने साथी का खत भी है. यह कथित साथी इन दिनों मिस्र में रह रहा है.

ज़िन्तैन में बीबीसी के राणा जव्वाद का कहना है कि यूँ तो देश की अंतरिम सरकार ने ज़िन्तैन में लड़ाकों से कहा है कि वो सैफ अल-इस्लाम को छोड़ दें लेकिन ज़िन्तैन में मौजूद लड़ाके इसके लिए तैयार नहीं दिख रहे हैं.

लड़ाकों का कहना है कि इन अधिकारियों पर ज़िन्तैन में मुकदमा चलेगा क्योंकि इन लोगों ने ज़िन्तैन में अपराध किया है.

संबंधित समाचार