स्पेन को इटली ने रोका, क्रोएशिया विजयी

इमेज कॉपीरइट d
Image caption स्पेन का लगातार 14 मैचों में जीत का सिलसिला थम गया

यूरो 2012 फुटबॉल प्रतियोगिता में लगातार तीन अंतरराष्ट्रीय खिताब जीतने की स्पेन की कोशिशों को धक्का लगा है और इटली के खिलाफ़ उसका मैच 1-1 से ड्रा रहा है. उधर क्रोएशिया ने ग्रुप सी के ही एक अन्य मैच में आयरलैंड को 3-1 से हरा दिया है.

वर्ष 2008 के यूरोपियन चैंपियन और 2010 के वर्ल्ड चेंपियन स्पेन का लगातार 14 मैचों का विजय रथ रविवार को इटली के सामने रुक गया.

इटली के स्बस्टीट्यूट एंटोनियो दी नाटाली ने इटली को बढ़त दिलाते हुए मैच का पहला गोल किया था लेकिन स्पेन के मिडफील्डर फेबरगैस ने 64वें मिनट में इसकी बराबरी की लेकिन स्पेन की टीम में इसके बावजूद दमखम नहीं लौटा.

इटली ने दिखाया कि अंतरराष्ट्रीय मैचों में कभी उसे हल्के में नहीं लिया जा सकता. उधर स्पेन ने गेंद पर ज्यादा देर कब्जे और इटली से दोगुना गोल की कोशिशों के बावजूद उस खेल का प्रदर्शन नहीं किया जो उसे जीत दिला सके.

स्पेन के कोच विंसेंट देल बोस्क ने पूरा ठीकरा पिच पर फोड़ दिया और कहा कि यदि पिच कुछ तेज होती तो दोनों टीमों के लिए बेहतर होता और दर्शकों को भी एक बेहतर मैच देखने को मिलता.

इमेज कॉपीरइट s
Image caption क्रोएशिया ने अधिकतर समय गेंद पर कब्जा रखा

इस मैच से इटली के कोच सीजर प्रांदिली उत्साहित होंगे क्योंकि दी नेटाली का स्बस्टीट्यूशन उनकी टीम के लिए रंग लाया.

क्रोएशिया ने आयरलैंड को 3-1 से हराया

दूसरे ग्रुप सी मैच में क्रोएशिया ने तीसरे मिनट में ही मारियो मांदजुविच के हेडर के जरिए गोल किया.

आयरलैंड के शॉन लेजर ने भले ही 19वें मिनट में क्रोएशिया की बराबरी कर ली लेकिन निकिचा जेलाविच ने क्रोएशिया को फिर बढ़त दिला दी.

दूसरे हॉफ में मांदजुविच के एक और हेडर किया और क्रोएशिया 3-1 से आगे हो गया.

लेकिन क्रोएशिया के लिए कुछ मुश्किलें इसलिए खड़ी हो सकती हैं क्योंकि इस गोल के बाद उसके दर्शकों ने स्टेडियम में आतिशबाजी आदि चलाई. इससे पहले उन्होंने कुर्सियाँ, बोतलें चलाईं थी और इसके बाद तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है.

इस मैच में जैसी कि संभावना थी, क्रोएशिया की तकनीक आयरलैंड से कहीं बेहतर दिखी.

संबंधित समाचार