लंदन में 36 'अवैध' भारतीय गिरफ्तार

साउथॉल इमेज कॉपीरइट a
Image caption पश्चिमी लंदन के साउथॉल में भारतीयों की अच्छी खासी जनसंख्या है

पश्चिमी लंदन के साउथॉल में अवैध तरीके से काम करने वालों के खिलाफ एक अभियान में 36 भारतीय पुरुषों को गिरफ्तार किया गया है.

गोपनीय जानकारी के आधार पर काम करते हुए, मेट्रोपोलिटन पुलिस की सहायता से ब्रिटेन की बॉर्डर एजेंसी ने उन लोगों पर निशाना साधा जो मजदूरी के काम की तलाश में साउथॉल की किंग स्ट्रीट में हर रोज इकट्ठा होते हैं.

ब्रिटेन के एक सरकारी बयान में कहा गया है कि अधिकारी मंगलवार को स्थानीय समयानुसार सुबह लगभग 7.30 बजे इसकी जांच करने के लिए पहुंचे कि क्या इन लोगों को ब्रिटेन में रहने और काम करने का अधिकार है.

गिरफ्तार किए गए लोगों की उम्र 23 और 56 साल के बीच है. इन्हें विभिन्न अपराधों के लिए गिरफ्तार किया गया है. अधिकारियों ने पाया कि कई विद्यार्थियों समेत 16 लोग वीजा समाप्त होने के बावजूद वहां रुके थे.

दो को जमानत

इनमें 34 लोग फिलहाल हिरासत में है और ब्रिटेन से बाहर किए जाने का इंतजार कर रहे हैं. बाकी दो को जमानत दी गई है.

ब्रिटेन की बॉर्डर एजेंसी के एक प्रवक्ता ने कहा, ''यह ऑप्रेशन बहुत कामयाब रहा और दिखाता है कि अवैध काम करने वालों की समस्या का समाधान करने के लिए मेट्रोपॉलिटन पुलिस जैसी एजेंसियों के साथ काम करने का कितना फायदा है.''

उन्होंने कहा, ''हम लंदन में हर साल ऐसे सैकड़ों ऑप्रेशन करते हैं और जहां हम अवैध तरीकों से रहने वाले लोगों को पाते हैं, हम उन्हे देश से बाहर करने की कोशिश करते हैं.''

ब्रिटेन में पिछले छह हफ्तों में इनके अलावा 26 और भारतीय नागरिक गिरफ्तार किए जा चुके हैं जिनमें रेस्तरां और दुकानों में काम करने वाले लोग शामिल थे.

संबंधित समाचार