सीरिया ने किया सैन्य अभ्यास,अन्नान पहुंचे दमिश्क

Image caption रक्षा मंत्रालय का कहना है कि वो किसी संभावित खतरे से निपटने की अपनी क्षमता को परख रही है

सीरिया की सरकारी मीडिया के मुताबिक सीरिया की नौ सेना ने बड़े स्तर पर एक सैन्य अभ्यास शुरु किया है.

सीरिया के रक्षा मंत्रालय का कहना है कि वो किसी संभावित खतरे से निपटने की अपनी क्षमता को परख रही है.

सीरिया के सरकारी टेलीविजन में दिखाया गया है कि तरह से युद्दक जहाजों और जमीन से मिसाइलें दागी गई हैं.

सेना का कहना है कि आने वाले दिनों में वायु सेना भी अभ्यास करेगी

हाल ही में तुर्की के एक जेट विमान को सीरिया में मार गिराए जाने के बाद सीरिया की सीमा पर तुर्की के साथ तनाव बढ़ गया था.

रक्षा मंत्री जनरल दावुद राझा ने कहा, “हमारी नौसेना ने असलाह बारूद के साथ युद्ध अभ्यास शुरु कर दिया है.”

पिछले हफ्ते तुर्की ने भी कहा था कि उसने सीमा पर रॉक्ट लॉन्चर और विमानों से लड़ने वाली बंदूकों को तैनात कर दिया है.

अन्नान सीरिया पहुंचे

इस बीच, सीरिया के राष्ट्रपति असद ने अमरीका पर आरोप लगाया है कि वो सीरिया में अस्थिरता पैदा करने की कोशिश कर रहा है.

सीरिया में हिंसा लगातार जारी है और रविवार को 11 लोगों के मारे जाने की खबर आई है.

करीब एक साल पहले शुरु हुए इस संघर्ष में अब तक 15,000 से ज़्यादा लोग मारे जा चुके हैं.

संयुक्त राष्ट्र और अरब लीग के शांति दूत कोफी अन्नान राजधानी दमिश्क पहुंच गए हैं.

उनके कार्यालय का कहना है कि वे राष्ट्रपति असद से बातचीत करेंगें.

इससे पहले, शनिवार को कोफी अन्नान ने ये माना था कि उनकी सुझाई छह-बिंदु शांति योजना विफल रही है.

विश्व के कई देशों के बीच पिछले दिनों सीरिया को लेकर काफी बैठके हुईं, लेकिन कोई समाधान निकल कर नहीं आ सका है.

विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि किसी भी समाधान तक पहुंचने के लिए रूस और चीन द्वारा सीरिया को दिए जा रहे समर्थन को खत्म करना होगा.

संबंधित समाचार