अमरीका में गर्मी ने 117 साल पुराने रिकॉर्ड तोड़े

  • 11 जुलाई 2012
अमरीका इमेज कॉपीरइट AP
Image caption औसतन तापमान 35 से 42 डिग्री सेलसियस तक पहुंचा है जो अमरीका जैसे देश में असामान्य है

अमरीकी राष्ट्रीय पर्यावरण डाटा केंद्र के अनुसार इस वर्ष जून महीने तक के आंकड़ों से पता चलता है कि इस वर्ष गर्मी ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं.

सन 1895 से अमरीका में तापमान रिकॉर्ड किया जा रहा है और पिछले 117 वर्षों में साल के पहले छह महीनों में इतनी गर्मी कभी नहीं पड़ी जितनी इस वर्ष पड़ रही है.

इस वर्ष गर्मी के मौसम में पूरे देश के विभिन्न हिस्सों में औसतन तापमान 35 से 42 डिग्री सेलसियस तक पहुंचा है जो अमरीका जैसे ठंडे देश में बहुत असामान्य है.

इनमें वो इलाकें भी शामिल हैं जहां सर्दियों के मौसम में शून्य से 25 डिग्री नीचे तक तापमान पहुंच जाता है.

173 इलाकों में गर्मी

देश भर में कम से कम 173 ऐसे इलाके हैं जहां या तो सबसे अधिक तापमान का अब तक का रिकॉर्ड टूटा है या फिर बराबर रहा है.

न्यूयॉर्क में भी अधिकतर लोग घर के अंदर या फिर दुकान या दफ़्तर में या फिर किसी मॉल में एयरकंडीशन की ठंडक में ही रहने की कोशिश कर रहे हैं.

एक अमरीकी युवा पीटर स्मिथ कहते हैं, “मैं तो अपने घर में बगैर एसी के रहता ही नहीं हूँ. गर्मी से निजात पाने का यही सबसे अच्छा तरीका है. हाँ जब बिजली का बिल आएगा तब की तब देखी जाएगी, अभी तो मज़े से ठंडक में गुज़र रही है.”

कुछ लोग गर्मी से निपटने के लिए समुद्र का रूख भी कर लेते हैं. न्यूयार्क समेत कई शहरों के लोग समुद्र के तट पर बसे होने का फ़ायदा उठाते हैं. इस रिकॉर्ड गर्मी में समुद्र के किनारे हज़ारों की भीड़ जमा हो रही है.

बूढ़े लोगों को भी गर्मी से बचने का ख्याल रखना पड़ रहा है.

न्यूयॉर्क में रहने वाली एक रिटायर्ड अमरीकी महीला हैरियट कंमिंस अपना बड़ा सा छाता लेकर निकलीं. इस रिकॉर्ड-तोड़ गर्मी से वह कैसे निपट रही हैं इसके बारे में वह कहती हैं, “मैं तो अधिकतर समय घर के अंदर एयरकंडीशनर की ठंडक में ही रहती हूँ, और जब बाहर निकलती हूँ तो अपना छाता लेकर निकलती हूं. दोपहर को पार्क में भी चली जाती हूँ.”

सूखे का भी रिकॉर्ड

देश भर में जून का महीना अब तक का दस्वां सबसे सूखा महीना भी रहा है जिसके कारण देश में कई स्थानों पर रिकॉर्ड सूखा भी पड़ा है.

अमरीका के कई राज्यों में जैसे कोलोराडो और यूटाह में असामान्य गर्म तापमान और सूखे मौसम के कारण जंगलों में आग लगने का भी खतरा बहुत बढ़ गया है.

बंग्लादेशी मूल के अमरीकी अब्दुररहमान अपनी परचून की दुकान में वातानुकूलित माहौल में अधिकतर समय बिताते हैं. वे कहते हैं कि गर्मी अधिक होने के कारण उनकी दुकान की बिक्री में भी कमी आई है.

अब्दुर्रहमान कहते हैं, “बहुत गर्म तापमान है तो लोग बाहर भी कम निकलते हैं. उससे हमारी बिक्री भी कम हो रही है. वैसे लोग ठंडी कोल्ड ड्रिंक्स और पानी खरीदने आते हैं.”

कारण

पर्यावरण विशेषज्ञों का मानना है कि इस वर्ष अत्यधिक गर्मी का कारण यह है कि अमरीका के दक्षिणी और मध्य के इलाकों के हजारों फीट उपर पश्चिम की ओर चलने वाली हवा के दबाव के कारण गर्मी बीच में ही फंस कर रह गई है जिससे देश भर में असामान्य तौर पर गर्म तापमान हो गया है.

इसी प्रकार के हवा के दबाव के कारण अमरीका में पिछले जाड़े के दौरान भी असामान्य तौर पर अत्याधिक ठंडा तापमान रिकॉर्ड किया गया था.

वैसे वैज्ञानिक मानते हैं कि ठंडे और गर्म मौसम में इस प्रकार के उतार चढ़ाव आते रहते हैं. लेकिन उनका यह भी कहना है कि पिछले कई वर्षों में विश्व भर में पर्यावरण के आंकड़े बताते हैं कि धरती का तापमान धीरे धीरे बढ़ रहा है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार