'आतंकवादियों,' तस्करों के बैंक का इस्तेमाल करने पर एचएसबीसी की माफ़ी

  • 18 जुलाई 2012
एचएसबीसी
Image caption एचएसबीसी बैंक पर अमरीकी सीनेट ने लगाए गंभीर आरोप

यूरोप के सबसे बड़े बैंक एचएसबीसी के शीर्ष अधिकारियों ने अपराधियों, मादक द्रव्यों के तस्करों और आतंकवादियों द्वारा उनके बैंक को माध्यम बनाए जाने पर अमरीकी सीनेट की एक समिति के सामने माफी मांगी है.

इससे पहले जाने-जाने बैंक एचएसबीसी में अवैध धन के दावों की तफ्तीश करने वाली अमरीकी सीनेट की समिति ने कहा है कि ये बैंक मादक द्रव्यों के तस्करों और कुछ देशों के लिए एक माध्यम बना था.

सीनेट की रिपोर्ट के अनुसार मैक्सिको और सीरिया समेत कई देशों के संदिग्ध फंड इसी बैंक से होकर गुजरे थे.

मंगलवार को इस बैंक के अधिकारी सीनेट के सामने पेश हुए और माफी मांगी.

एचएसबीसी के कानून पालन करवाने के जिम्मेदार अधिकारी डेविड बेगली ने कहा है कि वे अपना पद छोड़ने की योजना बना रहे हैं.

अमरीकी सीनेट की समिति के सामने पेश होते हुए एचएसबीसी बैंक यूएसए की अध्यक्ष आइरीन डोर्नर ने अपने बैंक के व्यवहार के क्षमा मांगी.

आइरीन डोर्नर ने कहा," मैं हमारे बैंक से ग्राहकों, कर्मचारियों और आम जनता को जो निगरानी की आपक्षाएं थीं, उनपर खरा ना उतर पाने के लिए क्षमा मांगती हूं. "

खतरनाक माहौल

अमरीकी सीनेटर कार्ल लेविन ने कहा है कि इन गड़बड़ियों की जड़ में एचएसबीसी बैंक में नियंत्रण की कमी है.

सीनेट की समिति साल 2006 से 2010 तक एचएसबीसी बैंक की गतिविधियों पर पड़ताल कर रही है.

बैंक के एक अधिकारी पॉल थर्स्टन ने समिति को बताया कि मैक्सिको जैसे देश में काम करना मुश्किल है क्योंकि वहां बैंक अधिकारियों का अपहरण आम बात है और कर्मचारी अपराधियों के दबाव में काम करते हैं.

यूरोप के सबसे बड़े बैंक ने एक बयान जारी कर कहा है कि वो गलतियों के लिए जवाबदेही को स्वीकार करेगा.

बयान में कहा गया है, “हम माफी मांगेंगे. अपनी गलतियां मानेंगे. अपने कार्यकलापों पर सवालों का जवाब देंगेगे और हम अपनी गलतियां सुधारने के लिए प्रतिबद्ध हैं.”

सीनेट की रिपोर्ट में कहा गया है कि बैंक के माध्यम से मैक्सिको के अवैध ड्रग्स व्यवसाय के धन को आगे बढ़ाया गया है. साथ ही केमैन द्वीप, ईरान और सऊदी अरब जैंस देशों के संदिग्ध धन को बैंक ने जगह दी.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार