मंत्री का सुझाव - पुरुष बैठकर पेशाब करें

 मंगलवार, 28 अगस्त, 2012 को 12:58 IST तक के समाचार
टॉयलट

मर्द टॉयलट में खड़े होकर पेशाब करते हैं

ताइवान के एक मंत्री के बयान ने स्वच्छता पर बहस शुरु कर दी है जिसमें उन्होंने कहा था कि पुरुषों को बैठकर पेशाब करना चाहिए.

एन्वॉरमेंटल प्रोटेक्शन एडमिनिस्ट्रेशन(ईपीए) यानी पर्यावरण संबंधित मामलों के मंत्री स्टीफन शेन का कहना है,'' अगर पुरुष महिलाओं की तरह टॉयलट सीट पर बैठकर पेशाब करेंगे तो ज्यादा सफाई रहेगी.''

बीबीसी की संवाददाता सिंडी सुई का कहना है कि मंत्री के इस वक्तव्य ने ऑनलाइन बहस शुरु कर दी है.

प्रशासन इस बारे में जनता को सूचित करने के लिए अगले हफ्ते सार्वजनिक जगहों पर नोटिस लगाएगी जिसमें ये कहा जाएगा कि पुरुष खड़े होकर पेशाब न करें.

सोशल मीडिया वेबसाइट पर कई महिलाओं ने इस सुझाव का समर्थन किया है तो कई पुरुषों का कहना है कि जो काम वे इतने सालों से करने के आदी है अब उस आदत को बदलना करना मुशिकल होगा.

'जापान में 30 प्रतिशत सफलता'

"जापान में 30 प्रतिशत पुरुष बैठकर पेशाब करते हैं."

यूआन शॉ-जिंग

लेकिन ईपीए अधिकारियों का कहना है कि ये किया जा सकता है.

पर्यावरण स्वच्छता से संबंधित मामलों के ईपीए के महानिदेशक यूआन शॉ-जिंग का कहना है, '' हम जापान और स्वीडन से सीखना चाहते है.''

उनका कहना था, ''जापान में 30 प्रतिशत पुरुष बैठकर पेशाब करते हैं.''

ताइवान में इंस्पेक्टर करीब 100, 000 सार्वजनिक टॉयलटों में साफ-सफाई का नियमित रुप से आंकलन करते हैं और जिनमें ज्यादातर को अच्छे ग्रेड मिलते हैं.

लेकिन ईपीए अधिकारियों का कहना है कि अभी भी सुधार की गुंजाइश है क्योंकि कुछ शौचालयों में पेशाब के छींटों की वज़ह से बदबू आती है.

हालांकि ईपीए का कहना है कि वो पुरुषों को अपनी आदत बदलने के लिए मजबूर नहीं कर सकती है.

और जहां तक शेन की बात है ईपीए ने इस बात की पुष्टि की है कि मंत्री अपने सुझावों पर अमल करते है और घर हो या फिर सार्वजनिक टॉयलट, वे बैठकर ही पेशाब करते हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.