दूसरी पारी में न्यूज़ीलैंड को 244 रन की बढ़त

 रविवार, 2 सितंबर, 2012 को 11:26 IST तक के समाचार

विराट कोहली और धोनी ने लंबी साझेदारी निभाई

बैंगलोर क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक न्यूजीलैंड ने अपनी दूसरी पारी में नौ विकेट गंवाकर 232 रन बना लिए हैं. इस तरह से न्यूज़ीलैंड की कुल बढत 244 रनों की हो चुकी है.

भारतीय फ़िरकी गेदबाज़ आर अश्विन का जादू दूसरी पारी में भी चला. उन्होंने पांच विकेट हासिल कर न्यूज़ीलैंड के समेटने में अहम भूमिका निभाई.

आर अश्विन ने पहली पारी में भी पांच विकेट लिए थे.

क्लिक करें स्कोर कार्ड के लिए क्लिक करें

न्यूज़ीलैड की ओर से जीवंत पटेल 10 और ट्रेंट बोल्ट बिना खाता खोले क्रीज़ पर मौजूद हैं.

इससे पहले न्यूज़ीलैंड के लिए दूसरी पारी में बल्लेबाज़ो को शुरुआत तो मिली लेकिन वो इस शुरुआत को बड़े स्कोर में तबदील नहीं कर पाए.

जेम्स फ्रैंकलिन ने 41 रन बनाए जबकि डेनियल फिन ने 31 रन का योगदान दिया इसके अलावा कप्तान रॉस टेलर ने भी 35 रन की पारी खेली.

भारत की ओर से दूसरी पारी में आर अश्विन के अलावा प्रज्ञान ओझा और उमेश यादव ने 2-2 विकेट लिए.

भारत

इससे पहले भारत की पूरी टीम पहली पारी में 353 रन बनाकर आउट हो गई. भारत ने रविवार को पांच विकेट पर 283 रनों के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया था.

विराट कोहली ने चौका लगा कर अपने टेस्ट करियर का दूसरा शतक पूरा किया.

कोहली ने शतक पूरा करने में 187 गेंदे खेलीं. उन्होंने 14 चौके और एक छक्का लगाया.

उधर धोनी ने भी शानदार स्ट्रेट ड्राइव लगा कर अपनी हाफ़ सेंचुरी पूरी की.

विराट शतक लगाने के बाद ज्यादा समय तक नहीं रुके.

साउदी की गेंद पर उन्होंने कोई स्ट्रोक ऑफ़र नहीं किया और वह एलबीडब्लू घोषित किए गए.

साउदी की घातक गेंदबाज़ी

उसके बाद साउदी ने शानदार स्पेल फेंक बहुत सस्ते में तीन भारतीय बल्लेबाजों को पवेलियन पहुँचा दिया.

धोनी भी उन्हीं की गेंद पर एलबीडब्लू आउट हुए.

अश्विन और उमेश यादव ने पिच पर टिक कर भारत को न्यूज़ीलैंड के स्कोर के नजदीक पहुँचाया.

न्यूज़ीलैंड की तरफ से सबसे घातक गेंदबाज़ी टिम साउदी ने की और अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 64 रन देकर सात विकेट लिए.

भारत की तरफ से सहवाग ने 43, सुरेश रैना ने 55, धोनी ने 62 और अश्विन ने 32 नाबाद रन बनाए.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.