अर्धनग्न तस्वीरें : शाही जोड़े की अदालत जाने की तैयारी

  • 17 सितंबर 2012
केट और विलियम
Image caption शाही जोड़ा सोलोमन आइलैंड्स की सैर पर

कैम्ब्रिज के ड्यूक विलियम और डचेस कैथरीन के वकील, डचेस की अर्धनग्न तस्वीरों को और प्रकाशित किए जाने से रोकने के लिए सोमवार को पेरिस की अदालत में गुहार लगाएंगे.

विलियम और कैट का चुम्बन

डचेस की ये तस्वीरें फ्रांसीसी पत्रिका क्लोजर और आयरिश डेली स्टार में प्रकाशित हुई हैं. इटली की एक पत्रिका का कहना है कि वह भी इन तस्वीरों को प्रकाशित करना चाहती है.

आयरलैंड के एक टैब्लॉयड ने भी इन तस्वीरों को छापा है. टैब्लॉयड के सह-मालिक ने इसकी आलोचना की है.

शाही जोड़ा फ्रांसीसी पत्रिका क्लोजर के खिलाफ निजता के हनन का मुकदमा दर्ज कराने वाली है.

मानहानि के लिए हर्ज़ाना

वहीं क्लोजर पत्रिका ने इन तस्वीरों को प्रकाशित करने के अपने फैसले का ये कहते हुए बचाव किया है कि जिन तस्वीरों को प्रकाशन के लिए चुना गया, वो किसी तरह से खराब नहीं हैं.

बच्चों के बीच राजकुमारी

सेंट जेम्स पैलेस के एक प्रवक्ता का कहना है कि अदालत में जरूरी दस्तावेज़ पेश करने के बाद कानूनी प्रक्रिया सोमवार को शुरू होगी.

उन्होंने कहा कि ये मुकदमा लंबा चलेगा और मानहानि के लिए हर्ज़ाना भी मांगा जाएगा.

शाही अधिकारियों का कहना है कि ये फ्रांसीसी अभियोजकों को तय करना है कि क्लोजर पत्रिका के खिलाफ दीवानी या फौजदारी किस मामले में कार्यवाही करनी है.

खुले हैं सभी विकल्प

Image caption शाही जोड़े को देखने के लिए लोग उमड़ रहे हैं

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि इटली की पत्रिका या आयरिश अखबार के खिलाफ कार्रवाई की फिलहाल कोई योजना नहीं है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि सभी विकल्प खुले हुए हैं.

बौद्धिक सम्पदा अधिकारों और मानवाधिकार मामलों के विशेषज्ञ सोलिसिटर मार्क स्टीफेंस ने बीबीसी को बताया कि डचेस की तस्वीरों ने तस्वीरें खींचने के अधिकारों का उल्लंघन किया है.

ये तस्वीरें डचेस की जानकारी से बिना उस वक्त ली गईं जब वो फ्रांस में छुट्टियां मना रही थीं.

कैम्ब्रिज के ड्यूक और डचेस, फिलहाल दक्षिण पूर्वी एशिया और दक्षिण प्रशांत क्षेत्र में छुट्टियां मना रहे हैं.

बीबीसी संवाददाता निकोलस विचेल का कहना है कि सोलोमन आइलैंड्स पहुंचा शाही जोड़ा परेशान नजर नहीं आ रहा है और खुश है.

उनका कहना है कि शाही जोड़ा जहां भी जा रहा है, हजारों लोग सड़कों के किनारे लम्बी कतारों में खड़े होकर उनका स्वागत कर रहे हैं.

संबंधित समाचार