55 साल तक जवान!

 बुधवार, 19 सितंबर, 2012 को 18:46 IST तक के समाचार

एक शोध से पता चला है कि लोग पचास साल की उम्र भी युवा कहलाना ही पसंद करते हैं

अगर आपकी उम्र 35 से 40 के बीच है और आप अपने आपको प्रौढ़ मानने लगे हैं, तो इस सोच से बाहर निकलिए जनाब! अगले कुछ सालों तक आप जवान ही कहलाएंगे.

नए शोध बताते हैं कि अब 'मिडिल एज' यानी प्रौढ़ावस्था, 55 साल की आयु में शुरु होती है. जबकि इस बारे में पुराने मानकों के मुताबिक प्रौढ़ावस्था 36 साल की उम्र में ही शुरु हो जाती थी. और ब्रितानी तो जब तक 70 के फेरे में नहीं आ जाते, तब तक ख़ुद को बूढ़ा भी नहीं मानते.

ये बात सामने आई है 50 साल से ज़्यादा उम्र के एक हज़ार ब्रितानी वयस्कों पर किए गए सर्वेक्षण में. ये सर्वेक्षण 'लव टू लर्न' नामक एक वेबसाइट ने कराया है.

ये अध्ययन इस ओर भी इशारा करता है कि जैसे-जैसे लोग लंबी उम्र तक जी रहे हैं, प्रौढ़ावस्था या वृद्धावस्था जैसे शब्दों के मायने और मानक बदल रहे हैं.

ब्रिटेन के आधिकारिक राष्ट्रीय आंकड़ों के अनुसार अब वहां 16 वर्ष से कम उम्र के लोगों से कहीं ज़्यादा संख्या 65 वर्ष से ऊपर के लोगों की है.

युवा की उम्र क्या?

"आधे से ज्यादा लोगों का कहना था कि उनके पास युवाओं से ज्यादा अनुभव और आत्मविश्वास है."

गिल जैकसन, वेबसाइट के निदेशक

इस सर्वेक्षण में 50 की आस-पास के उम्र के दस में से सात लोगों ने खुद को 'मिडिल एज' का बताया. इस हिसाब से जब 'मिडिल एज' का औसत निकाला गया तो ये करीब 55 साल था.

सर्वेक्षण में करीब 19 प्रतिशत लोगों का कहना था कि 'मिडिल एज' दिमाग की अवस्था है न कि कोई ऐसी स्थिति जो कि एक उम्र विशेष से शुरू होती है.

इस शोध का मकसद ये था कि यूरोपीय लोग खुद को कैसे वर्गीकृत करते हैं, उनकी औसत आयु क्या है और किस उम्र से वृद्धावस्था की शुरुआत होती है.

लेकिन इस बात पर आम सहमति बहुत कम थी कि युवावस्था कब खत्म होती है. सर्वेक्षण में युवाओं की औसत उम्र 40 साल बताई गई जो 32 साल से लेकर 52 साल तक थी.

सर्वेक्षण कराने वाली वेबसाइट के निदेशक गिल जैकसन का कहना था, “आधे से ज्यादा लोगों का कहना था कि उनके पास युवाओं से ज्यादा अनुभव और आत्मविश्वास है.”

वेबसाइट को शुरू करने में सहयोग देने वाले जॉन क्रेवेन का कहना था कि कुछ समय पहले तक स्थिति ये थी कि लोग 60 साल की उम्र में खुद को बूढ़ा महसूस करने लगते थे.

हालांकि कुछ लोग अभी भी इस साए से नहीं उबरे हैं और ऐसे लोग बहुत कम पढ़े-लिखे हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.