अजब-ग़ज़ब: फिंगरप्रिंट मिटाने के लिए जला डाली उंगलियां

  • 20 सितंबर 2012
बरेरा, ड्रग तस्कर, barrera
Image caption पहले उसने उंगलियों की प्लास्टिक सर्जरी भी करवाई थी

वेनेज़ुएला की पुलिस ने कोलंबिया के मादक पदार्थों के शातिर तस्कर को पकड़ने का दावा किया है. पुलिस का कहना है कि पकड़ा गया तस्कर अपनी पहचान छुपाने में माहिर था.

पचास साल की उम्र के ड्रग तस्कर बरेरा को वेनेज़ुएला के एक टेलिफोन बूथ पर पकड़ा गया.

पुलिस के अनुसार बरेरा ने अपनी सभी उंगलियां एसिड से जला ली थीं, ताकि उंगलियों की छाप पुलिस रिकार्ड में दर्ज उसके पहले की फिंगरप्रिंट से ना मिले.

बताया जा रहा है कि फिंगरप्रिंट बदलने के लिए बरेरा पहले प्लास्टिक सर्जरी भी करा चुका था.

वेनेजुएला के गृह मंत्री तारिक अल ऐसामी का कहना है कि बरेरा की ओर से अक्सर प्रयोग किए जाने वाले 69 टेलिफोन बूथों पर पुलिस पहले से ही नजर रख रही थी.

बरेरा अपने परिवारवालों से बात करने के लिए इन्हीं टेलिफोन बूथों का इस्तेमाल करता था.

चार देशों की पुलिस ने पकड़ा

Image caption बरेरा पर भारी भरकम इनाम घोषित था

शातिर तस्कर बरेरा को पकड़ने के लिए ब्रिटेन, अमरीका सहित चार देशों की पुलिस संयुक्त प्रयास कर रही थी.

बरेरा को पकड़ने की योजना के बारे में किसी को भनक ना लगे इसके लिए इस ऑपरेशन को पूरी तरह से वाशिंगटन से संचालित किया जा रहा था.

अमरीकी अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने इतना सख्त पहरा लगाया था कि ड्रग माफिया के छुपने की कोई जगह ही नहीं बची थी.

अमरीका ने बरेरा पर 50 लाख डॉलर का इनाम रखा था, जिसे कोलंबिया ने बढ़ाकर 77 लाख डॉलर कर दिया.

अब ये इनाम उन लोगों के बीच बांटा जाएगा जिनकी सूचनाएं बरेरा को पकड़ने में कारगर साबित हुईं.

कोलंबियाई राष्ट्रपति के अनुसार बरेरा पिछले 20 वर्षों से जुर्म का पर्याय बना हुआ था.

संबंधित समाचार