चर्च में हुआ सैकड़ो बच्चों का यौन शोषण

 शनिवार, 22 सितंबर, 2012 को 19:13 IST तक के समाचार

चर्चों में बच्चों के यौन शोषण के मामले बार-बार सामने आते रहे हैं.

ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया राज्य में रोमन कैथोलिक चर्च ने इस बात की पुष्टि की है कि चर्च के पादरियों ने 1930 से लेकर अब तक कम से कम छह सौ बच्चों का यौन शोषण किया गया है.

मेलबर्न के आर्कबिशप डेनिस हार्ट ने इन आंकड़ों को भयानक और शर्मनाक बताया है.

ये आंकड़े बच्चों के यौन शोषण पर बनी संसदीय समिति की जांच के दौरान सामने आए हैं.

हालांकि इस बारे में अभियान चलाने वालों का कहना है कि ये संख्या दस हजार तक हो सकती है.

ये रिपोर्ट जारी करते हुए चर्च ने कहा कि यौन शोषण संबंधी सबसे ज्यादा मामले 1960 से 1980 के बीच हुए हैं.

जांच

"हमें उम्मीद है कि इस जांच से उन लोगों के घाव भरने में मदद होगी जो कि इससे पीड़ित हुए हैं. "

डेनिस हार्ट, मेलबर्न के आर्कबिशप

चर्च का कहना है वो इस तरह के 45 और मामलों की जांच कर रहा है.

एक बयान में आर्कबिशप ने कहा है कि ये बहुत जरूरी था कि विक्टोरिया समेत चाहे जहां इस तरह की घटनाएं हो रही हैं, उनकी जांच होनी चाहिए.

उन्होंने कहा, “हमें उम्मीद है कि इस जांच से उन लोगों के घाव भरने में मदद होगी जो कि इससे पीड़ित हुए हैं. इस मामले में पिछले कुछ सालों से चर्च की भूमिका की जांच होनी बहुत जरूरी थी.”

हाल के दिनों में चर्चों में रोमन कैथोलिक पादरियों द्वारा बच्चों का यौन शोषण बड़ा मुद्दा रहा है.

जुलाई 2008 में अपने ऑस्ट्रेलिया दौरे के समय पोप बेनेडिक्ट सोलहवें ने कुछ पीड़ितों से मुलाकात की थी और इसके लिए उन्होंने सार्वजनिक माफी मांगी थी.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.