BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
गुरुवार, 29 सितंबर, 2005 को 04:32 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
इराक़ स्थिति पर बुश की चेतावनी
 
बुश, मायर्स और अबीज़ायद
इराक़ में सुरक्षाकर्मियों और सेना में भर्ती होने के आवेदकों पर कई बार हमले हुए हैं
अमरीका के राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने चेतावनी दी है कि इराक़ में आने वाले दिनों में हिंसा तेज़ हो सकती है.

ग़ौरतलब है कि इराक़ में नए संविधान पर एक पखवाड़े के बाद नए संविधान पर जनमतसंग्रह कराया जाना है और बुश ने कहा कि ये हमले जनमत संग्रह को प्रभावित करने के लिए किए जा सकते हैं.

बुश ने कहा, "वे चुनाव का सामना नहीं कर सकते, लोगों का मतदान करने के लिए जाना वो नहीं सह सकते."

बुश ने कहा कि इराक़ में अमरीकी सेनाएँ हिंसा की चुनौतियों का मुक़ाबला करने के लिए ठोस रणनीति अपना रही है और इराक़ी सुरक्षा इकाइयाँ भी असरदार तरीक़े से प्रभावशाली साबित हो रही हैं.

इराक़ में अमरीकी अभियान के प्रभारी दो सेना जनरलों - जॉन अबीज़ायद और जॉर्ज केसे ने राष्ट्रपति बुश को ताज़ा हालात की जानकारी दी है.

ये दो सेना जनरल अमरीकी कांग्रेस के सदस्यों से भी बातचीत करेंगे.

उधर इराक़ में बुधवार को एक महिला ने तल अलफ़ार में एक सेना भर्ती केंद्र पर आत्मघाती हमला किया जिसमें कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई और तीस से ज़्यादा घायल हो गए.

समझा जा रहा है कि विद्रोही गतिविधियाँ शुरू होने के बाद यह पहला महिला आत्मघाती हमला था.

अमरीकी और इराक़ी सुरक्षा बलों ने तल अलफ़ार में सरकारी नियंत्रण बहाल करने के लिए हाल ही में एक अभियान चलाया था.

तल अलफ़ार को उससे पहले विद्रोहियों के प्रभाव वाला इलाक़ा माना जाता था.

उधर बुधवार को ही इराक़ की राजधानी बग़दाद के उत्तर में बक़ूबा शहर में भी एक आत्मघाती हमला हुआ जिसमें एक व्यक्ति मारा गया.

इस घटना में एक आत्मघाती हमलावर ने एक पुलिस नाके को निशाना बनाया.

इराक़ में इस सप्ताह हिंसा में 70 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
 
 
इंटरनेट लिंक्स
 
बीबीसी बाहरी वेबसाइट की विषय सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है.
 
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>