BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
गुरुवार, 29 सितंबर, 2005 को 19:09 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
इराक़ी शहर बलाड में धमाके, 95 की मौत
 
इराक़
ये धमाके शिया बहुल इलाक़ों में हुए हैं.
इराक़ के शिया बहुल शहर बलाद में गुरूवार को हुए तीन कार बम धमाकों में मरनेवालों की संख्या बढ़कर 95 हो गई है.

बलाद में अस्पतालों के प्रमुख ने बीबीसी को बताया है कि 100 से अधिक लोग घायल भी हुए हैं.

बलाद इराक़ की राजधानी बग़दाद से 80 किलोमीटर उत्तर में स्थित है.

तीनों धमाके लगभग एक ही समय पर हुए. एक स्थानीय डॉक्टर ने बताया कि कुछ लोग गंभीर रूप से घायल हैं और कई बुरी तरह जल गए हैं.

इराक़ी पुलिस का कहना है कि ये आत्मघाती हमले एक व्यस्त सब्ज़ी मंडी, एक बैंक और एक पुलिस स्टेशन के पास हुए. ये सभी शिया बहुल इलाक़े हैं.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि इस हमले का मक़सद ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को मारना था.

उधर रमादी शहर में हुए बम धमाके में पाँच अमरीकी सैनिक मारे गए. रमादी सुन्नी बहुल इलाक़ा है और यहाँ विद्रोही काफ़ी सक्रिय हैं. ये विद्रोही इराक़ी और अमरीकी सेना पर अकसर हमले करते रहते हैं.

एक रिपोर्ट के मुताबिक़ पिछले पाँच दिनों में इराक़ में 13 अमरीकी सैनिक मारे जा चुके हैं. ढाई साल पहले इराक़ पर हुए अमरीकी हमले के बाद से अब तक क़रीब 2000 अमरीकी सैनिकों की मौत हो चुकी है.

उधर वाशिंग्टन में एक कमेटी के सामने बयान देते हुए जनरल जॉर्ज कासे ने कहा है कि अगर इराक़ में अगले महीने होने वाले जनमतसंग्रह में इराक़ी संविधान को नकार दिया गया तो हालात बिगड़ सकते हैं.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
 
 
इंटरनेट लिंक्स
 
बीबीसी बाहरी वेबसाइट की विषय सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है.
 
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>