http://www.bbcchindi.com

रविवार, 04 फ़रवरी, 2007 को 03:47 GMT तक के समाचार

ब्रिटेन के बर्ड फ़्लू का एशिया से संबंध

ब्रिटेन की सरकार ने बर्ड फ़्लू के फ़ैलने की आशंका से पूर्वी इंग्लैंड के एक फ़ार्म में डेढ़ लाख टर्की मारने का काम शुरू कर दिया है.

ब्रिटेन में पहली बार बर्ड फ़्लू का मामला सामने आया है और इसके कारण लगभग 2600 टर्की मारी गईं हैं.

पर्यावरण, खाद्य और ग्रामीण विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि पक्षियों को मार कर एक बड़े कंटेनर में रखा जा रहा है और यह अभियान रात भर जारी रहा.

जाँच से अब इस बात की पुष्टि हो गई है कि वहाँ फैलनेवाले बर्ड फ़्लू के एच5एन-1 वायरस का संबंध एशिया है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के मुताबिक़ वर्ष 2003 से एशियाई देशों में शुरू हुए इस वायरस के कारण 160 से ज़्यादा लोग मारे जा चुके हैं.

हालांकि अभी तक मनुष्य से मनुष्य में इस विषाणु के फैलने के मामले सामने नहीं आए हैं.

लेकिन आशंका व्यक्त की जा रही है कि यह वायरस एक मनुष्य से दूसरे मनुष्य में भी फैल सकता है.

शोधकर्ताओं का कहना है कि आम फ़्लू के मुकाबले बर्ड फ़्लू में फेफड़ों में बहुत गहरे तक संक्रमण होता है.

अगर कोई व्यक्ति संक्रमित हो जाता है तो बर्ड फ़्लू का वायरस बहुत तेज़ी से फैलता है और नुक़सान पहुँचाता है.