BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
शनिवार, 30 अगस्त, 2008 को 06:56 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
ऑस्ट्रेलिया में मर्दों का टोटा!
 
पुरूष (फ़ाईल फ़ोटो)
पुरूषों में कमी की समस्या ऑस्ट्रेलिया के तटीय क्षेत्रों में ज्यादा है
ऑस्ट्रेलिया में हुई नई जनगणना के विश्लेषण से पता चला है कि वहाँ औरतों की तुलना में मर्दों की संख्या में कमी आ रही है.

आँकड़े बताते हैं कि ऑस्ट्रेलिया में मर्दों के मुक़ाबले महिलाओं की संख्या तक़रीबन एक लाख ज़्यादा है.

तटीय इलाक़ों में स्थिति ज़्यादा ख़राब है. यहाँ पर महिलाओं का रूझान अच्छी नौकरियों और बेहतर ज़िंदगी की तरफ़ है जबकि बहुत सारे मर्द समुद्र पार चले गए हैं.

तीस साल पहले पुरूषों से संबंधित प्रवासी नीतियों की वजह से यहाँ पुरूषों की संख्या बहुत अधिक थी.

स्थिति में बदलाव उस समय आया जब हज़ारों ऑस्ट्रेलियाई नागरिक 20 से 30 साल की उम्र में घूमने या फिर काम करने के लिए विदेश चले गए.

इससे लिंगानुपात में असुंतलन जैसी समस्या पैदा हो गई है जिसके दूरगामी दुष्परिणाम होंगे.

उलट आँकड़े भी

ऑस्ट्रेलिया के मुख्य शहरों में पुरूषों की संख्या कम होने के साथ अकेली रहने वाली महिलाओं के समूहों की संख्या तेज़ी से बढ़ रही है.

जनसांख्यिकी विश्लेषक बर्नार्ड सॉल्ट का कहना कि नवयुवकों के विदेश जाने की प्रवृति अपना असर दिखा रही है.

"अगर संयुक्त अरब अमीरात की जनगणना को देखें तो पता चलता है दुबई में रह रहे लगभग 12 हज़ार ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों में अधिकतर 25 से 35 साल के पुरूष हैं."

लेकिन बड़े शहरों के बाहर स्थिति काफ़ी अलग है. यहाँ बड़ी संख्या में महिलाओं ने अच्छी नौकरी और शिक्षा के लिए महानगरों का रूख़ किया है और अपने पीछे एक ऐसा समुदाय छोड़ गईं हैं जिनमें नौजवान पुरूषों का आधिक्य है.

उत्तरी क्वीसलैंड के शहर ग्लैंडन में एक महिला के अनुपात में 23 मर्द हैं.

विश्लेषकों ने एक "लव-मैप" तैयार किया है जिससे पता चलता है कि किस तरह ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप में अलग-अलग रहने वाली महिलाओं और पुरूषों के दल फैले हुए हैं.

 
 
लड़कियाँ (फ़ाइल फ़ोटो) कुंवारों का धर्मसंकट!
राजस्थान में कुंवारे दुल्हन की तलाश में दूसरे धर्म का रुख़ करने लगे है.
 
 
ट्रांसजेंडर अनोखी नागरिकता..
नेपाल में एक पुरुष को मिली स्त्री और पुरुष दोनों की नागरिकता.
 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
घटता लिंग अनुपात एक कलंक: मनमोहन
28 अप्रैल, 2008 | भारत और पड़ोस
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>