पाकिस्तान की सहायता के लिए गुहार

  • 20 अगस्त 2010
Image caption सयुंक्त राष्ट्र के मुताबिक क़रीब दो करोड़ लोगों को रहने के लिए घर और अन्य सहायत की दरकार है.

सयुंक्त राष्ट्र के महासचिव बान की-मून ने जनरल असेंबली की एक आपात बैठक को बताया है कि पाकिस्तान में क़रीब दो करोड़ बाढ़ प्रभावितों को रहने के लिए घर और अन्य सहायता की सख़्त ज़रुरत है.

बान की-मून ने पाकिस्तान में आई बाढ़ को एक ‘धीमी गति से आती हुई सुनामी’ की संज्ञा देते हुए कहा है कि ये त्रासदी अभी ख़त्म नहीं हुई है.

बान की-मून ने कहा, "सकंट अभी टला नहीं है. बारिश कई हफ़्तों तक जारी रह सकती है. हम तो अब जाकर इस तबाही के सही स्तर का समझ पाए हैं. पाकिस्तान एक धीमी गति की सुनामी का सामना कर रहा है. इस सुनामी की तबाह करने की ताक़त समय के साथ बढ़ सकती है."

महासचिव बान की-मून पाकिस्तान के हालात पर बुलाई गई संयुक्त राष्ट्र की जनरल असेंबली की एक विशेष बैठक में बोल रहे थे. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से पाकिस्तान की और अधिक सहायता करने की गुज़ारिश की.

सयुंक्त राष्ट्र का कहना है कि पाकिस्तान में शुरुआती राहत के लिए ज़रुरी क़रीब 46 करोड़ अमरीकी डॉलर की राशि में से आधी तो जुटा ली गई है लेकिन अंतरराष्ट्रीय समुदाय का उत्साह अब भी धीमा ही है.

बान की-मून के अलावा अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरेशी ने भी अंतरराष्ट्रीय समुदाय से पाकिस्तान की सहायता के लिए आगे आने को कहा है.

‘अभावग्रस्त पाकिस्तान’

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरेशी ने जनरल असेंबली की आपात बैठक में कहा है कि बाढ़ से उत्पन्न हुई स्थिति काफ़ी गंभीर है.

क़ुरेशी ने कहा कि इस वक़्त पाकिस्तान की दस फ़ीसदी आबादी अभावग्रस्त है और देश का 20 प्रतिशत हिस्सा जलमग्न है.

उन्होंने कहा कि कोई भी विकासशील देश, पाकिस्तान जैसी स्थिति से अकेले नहीं निपट सकता. क़ुरेशी ने ये भी कहा कि इस त्रासदी को पाकिस्तान में आतंकवाद के फलने-फूलने का अवसर बनने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए.

अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने सयुंक्त राष्ट्र की जनरल असेंबली की आपात बैठक को बताया कि अमरीका पाकिस्तान के दीर्घ-कालीन पुनर्निर्माण के लिए प्रतिबद्ध है. लेकिन क्लिंटन ने कहा अब तक पाकिस्तान को मिली अंतरराष्ट्रीय सहायता नाकाफ़ी है.

अमरीकी विदेश मंत्री ने अमरीकी लोगों और उद्योग और सहायता करने की अपील भी की.

संबंधित समाचार