पाकिस्तान में एक क़स्बा पानी में डूबा

  • 29 अगस्त 2010
थट्टा
Image caption पानी का स्तर लगभग सभी इलाक़ों में अभी भी बढ़ता ही जा रहा है.

पाकिस्तान के दक्षिणी प्रांत सिंध का सुजावल क़स्बा बाढ़ में डूब चुका है जबकि सुजावल के क़रीब स्थित शहर थट्टा के लोग जिंदगी बचाने की जद्दोजहद में लगे हैं. सुजावल की आबादी तकरीबन ढाई लाख है.

सिंधु नदी के बढ़ते पानी को रोकने के लिए स्थानीय अधिकारी थट्टा के आस-पास बांध बनाने की कोशिश कर रहे हैं.

ख़बरों के मुताबिक पानी का स्तर लगभग सभी इलाक़ों में अब भी लगातार बढ़ता जा रहा है.

चार बच्चों की मां अमीना बीबी ने बीबीसी को बताया, "हमें इतनी जल्दी भागना पड़ा कि अपने साथ कुछ भी नहीं ला सके. हम कब्रिस्तान में बैठे हैं और आशियाने की तलाश कर रहे हैं."

भारी नुक़सान

अमीना बीबी ने कहा कि उनके पास खाने के लिए कुछ नहीं है और बाढ़ में उनके मवेशी बह गए हैं.

सदी की सबसे भीषण बाढ़ से पाकिस्तान का पाँचवाँ हिस्सा पानी में डूबा हुआ है और इसकी वजह से 12 लाख से ज़्यादा मकान नष्ट हो गए हैं.

भारी मात्रा में फ़सलें नष्ट हो चुकीं हैं और लाखों लोग विस्थापित हो गए हैं.

अंतरराष्ट्रीय सहायता एजेंसी 'ऑक्सफैम' ने कहा है कि पाकिस्तान को इस तबाही के नतीजे भविष्य में भी देखने पड़ सकते हैं और पाकिस्तान में बाढ़ पुनर्निर्माण प्रयास तत्काल न शुरू करने की ज़रुरत है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार