पाक-इंगलैंड श्रृंखला जारी रहे: पवार

Image caption मामले की जांच के लिए पाकिस्तान से एक जांच दल लंदन जा रहा है.

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है कि मैच फ़िक्सिंग के आरोपों की जांच रिपोर्ट दो से तीन दिन में आने की उम्मीद है और उसके बाद ही कोई कार्रवाई होगी.

उन्होंने कहा कि परिषद चाहता है कि इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच एक दिवसीय मैच की श्रृंखला जारी रहे.

उनका कहना था कि आईसीसी की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा और ब्रिटेन की पुलिस दोनों ही इस मामले की जांच कर रहे हैं.

उनका कहना था, “हमें पूरी उम्मीद है कि इस जांच के बाद एक स्पष्ट तस्वीर हमारे सामने होगी.”

इस मामले के तार भारत से जुड़े होने के सवाल पर शरद पवार का कहना था, “इसका सवाल ही नहीं उठता.”

इस्लामाबाद से बीबीसी संवाददाता हफ़ीज़ चाचड़ का कहना है कि पाकिस्तान ने कुछ क्रिकेट खिलाड़ियों के ख़िलाफ लगे सट्टेबाज़ी के आरोपों की जाँच के लिए एक उच्चस्तरीय समिति का गठन किया है.

पाकिस्तान के गृहमंत्री रहमान मलिक ने इस समिति में पाकिस्तान की संघीय जाँच एजेंसी के वरिष्ठ अधिकारियों को शामिल किया है.

अधिकारियों के मुताबिक यह समिति लंदन में पाकिस्तान के क्रिकेट खिलाड़ियों से पूछताछ करेगी और बाद में अपनी रिपोर्ट सरकार के सामने पेश करेगी.

राष्ट्रपति आसिफ अली ज़रदारी ने क्रिकेट खिलाड़ियों के ख़िलाफ सट्टेबाज़ी के आरोपों पर क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष एजाज़ बट से आरंभिक रिपोर्ट माँगी है.

राष्ट्रपति भवन के प्रवक्ता फरहतुल्लाह बाबर ने बीबीसी से बात करते हुए कहा कि राष्ट्रपति आसिफ ज़रदारी इन ख़बरों से काफ़ी चिंतित हैं और उन्होंने इस मामले में जल्द रिपोर्ट माँगी है.

इससे पहले पाकिस्तान के कुछ क्रिकेट खिलाड़ियों पर सट्टेबाज़ी में शामिल होने का आरोप लगने के बाद प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने कहा था कि इससे 'देश का सिर शर्म से झुक गया है'.

आरोप से सदमा

प्रधानमंत्री ने कहा था कि उन्होंने खेल मंत्रालय को इस मामले की जाँच करने के आदेश दिए हैं. गिलानी ने कहा कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों पर सट्टेबाज़ी के जो आरोप लगे हैं उससे उन्हें सदमा लगा है और पीड़ा पहुँची है.

उन्होंने खेल मंत्रालय से इस मामले की जाँच करने को कहा है.

उधर खेलमंत्री इजाज़ जख़रानी ने कहा था कि यदि कोई खिलाड़ी दोषी पाया जाता है तो उस पर आजीवन प्रतिबंध लगाया जा सकता है.

उन्होंने कहा, "हम कड़ी कार्रवाई करेंगे लेकिन पहले हम ब्रितानी पुलिस की जाँच रिपोर्ट की प्रतीक्षा करेंगे. यदि इस रिपोर्ट में किसी को दोषी पाया जाता है तो हम ऐसी सज़ा देंगे जिससे दूसरे सबक सीख सकें."

उनका कहना था, "यदि यह साबित होता है कि कुछ ग़लत हुआ तो इसमें शामिल खिलाड़ियों को यह भूल जाना चाहिए कि वे पाकिस्तान के लिए कभी खेल सकेंगे."

संबंधित समाचार