बाढ़ पीड़ितों के बीच एंजेलीना

बाढ़ प्रभावितों के एक शिविर में एंजलीना
Image caption बाढ़ पीड़ितों के लिए एंजलीना एक लाख अमरीकी डॉलर की मदद दे चुकी हैं.

पाकिस्तान के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए दुनिया का ध्यान आकर्षित करने के मकसद से हॉलीवुड अभिनेत्री एंजेलीना जोली पाकिस्तान पहुँची हैं.

वो संयुक्त राष्ट्र की संस्था ‘यूएनएचसीआर’ की सद्धभावना दूत की हैसियत से पाकिस्तान आई हैं. यूएनएचसीआर शरणार्थियों के अधिकारों के लिए काम करती है.

एंजेलीना ने मंगलवार को प्रधानमंत्री की सलाहकार आस्मा अरबाब जहाँगीर के साथ ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह प्रांत के नौशरा शहर में स्थित एक राहत केंद्र का दौरा किया और पीड़ितों से बातचीत की.

एंजेलीना पाकिस्तान में दो दिन बिताएंगी.

ग़ौरतलब है कि एंजेलीना पाकिस्तान के बाढ़ पीड़ितों के लिए पहले ही एक लाख अमरीकी डॉलर की मदद दे चुकी हैं.

चौथी यात्रा

यूएनएचसीआर की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार सुरक्षा कारणों से एंजेलीना की पाकिस्तान यात्रा को गुप्त रखा गया. यह उनकी चौथी पाकिस्तान यात्रा है.

एंजेलीना ने बाढ़ ग्रस्त इलाक़ों के दौरे के बाद एक पत्रकार वार्ता में कहा, ''यह केवल बाढ़ नहीं है बल्कि एक विभीषिका है जिसमें लाखों लोगों के घर नष्ट हुए हैं और जन-जीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है.''

अतंरराष्ट्रीय समुदाय से मदद की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के बाढ़ पीड़ितों की साहयता के लिए अतंरराष्ट्रीय समुदाय खुल कर संयुक्त राष्ट्र की मदद करें.

एंजेलीना ने कहा,''पाकिस्तान पिछले तीन दशकों से अफग़ान शरणार्थियों की मदद कर रहा है और अब उसके लाखों लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. हमें पाकिस्तान में व्यापक स्तर पर हुए विनाश को समझना चाहिए और उसकी मदद करनी चाहिए.''

इस बीच पाकिस्तान के दक्षिणी प्रांत सिंध में आई ताज़ा बाढ़ के कारण लाखों लोगों को अपना घरबार छोड़कर पलायन करना पड़ा है.

बाढ़ के हालात

सिंध के उत्तर में तोड़ी तटबंध टूटने के बाद पानी तेज़ी से दादू ज़िले की ओर बढ़ रहा है. पिछले कुछ हफ़्तो में सिंध के 23 में से 19 ज़िले बाढ़ के पानी में डूब चुके हैं.

सहायता एजेंसियों के अनुसार मानसून हवाओं के कारण हुई भारी बारिश के चलते पाकिस्तान में विस्थापित हुए 80 लाख लोगों को भोजन और पीने के पानी की सख़्त ज़रुरत है.

भारी बारिश से सिंधु नदी दो भागों में बंट गई है. एक हिस्सा तो अपने परंपरागत रास्ते से अरब सागर की ओर बह रहा है लेकिन दूसरा हिस्सा रास्ते में आने वाले गांवों में फ़सलों और रिहाइशी इलाक़ों को पानी में डूबो रहा है.

क्षेत्र में इतना पानी जमा हो गया है कि अब उन इलाक़ों के भी बाढ़ में डूबने की आंशका है जो अब तक तबाही से बचे रहे थे.

पाकिस्तानी सेना के इंजीनियर इन हालात को रोकने के लिए तोड़ी तटबंध को दुरुस्त करने में जुटे हैं.

पाकिस्तान में आई बाढ़ में अब तक एक हज़ार छह सौ लोग मारे जा चुके हैं. देश में क़रीब एक करोड़ 70 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हो चुके हैं.

संबंधित समाचार