मुशर्रफ़ के बयान पर उपयुक्त क़दम

  • 6 अक्तूबर 2010
परवेज़ मुशर्रफ़
Image caption मुशर्रफ़ के बयान भारत ने उपयुक्त क़दम उठाने की बात कही है.

पूर्व पाकिस्तानी राष्ट्रपति परवेज़ मुशर्रफ़ के उस बयान के बाद कि पाकिस्तान ने चरमपंथियों को कश्मीर में लड़ने के लिए प्रशिक्षण दिया था, भारत ने कहा है कि वो इस पर उपयुक्त क़दम उठाएगा.

बुधवार को केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री अंबिका सोनी पत्रकारों को बताया, “मैं आपको भरोसा दिलाती हूं कि गृहमंत्री, रक्षामंत्री और प्रधानमंत्री इस मुद्दे से निपटने के लिए हर तरह से सक्षम हैं.”

अंबिका सोनी ने कहा कि भारत हमेशा से जानता है कि ऐसा हो रहा है और सीमा पार से भारत में आतंकवाद आ रहा है.

सोनी ने कहा, “अब आप कह रहे हैं कि पूर्व पाकिस्तानी राष्ट्रपति परवेज़ मुशर्रफ़ ने कुछ कहा है. मुझे यक़ीन है कि सरकार इस बारे में उपयुक्त क़दम उठाएगी.”

मुशर्रफ़ का बयान

पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक परवेज़ मुशर्रफ़ ने माना है कि पाकिस्तान ने भारत के ख़िलाफ चरमपंथियों को प्रशिक्षित किया.

कुछ ही दिन पहले मुशर्रफ़ ने सक्रिय राजनीति में लौटने की घोषणा की है.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने जर्मन पत्रिका ‘डेर स्पीगल’ में छपे साक्षात्कार में मुशर्रफ़ के हवाले से बताया, ''हां ये सच है कि भारत प्रशासित कश्मीर के ज़रिए भारत के ख़िलाफ युद्ध छेड़ने के लिए चरमपंथियों को प्रशिक्षित किया गया.''

ये पहली बार है जब पाकिस्तान के किसी शीर्ष नेता ने भारत के ख़िलाफ चरमपंथी गतिविधियों को बढ़ावा देने वाले प्रशिक्षण कैंप चलाए जाने की बात स्वीकारी है.

संबंधित समाचार