पाक स्कूलों पर चरमपंथियों का हमला

Image caption स्वात घाटी में भी कई स्कूलों को तबाह किया गया था.

पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े मोहमंद एजेंसी में अधिकारियों का कहना है कि कथित चरमपंथियों ने पिछले तीन दिनों में लड़कियों और लड़कों के चार स्कूलों को तबाह किया है.

स्थानीय प्रशासन के अनुसार इस प्रकार की घटनाएँ पिछले कुछ दिनों के दौरान मोहमंद एजेंसी के दूरगामी इलाक़ों में हो रही हैं.

पुलिस ने बताया कि स्कूलों को नुक़सान पहुँचाने के आरोप में कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है.

स्थानीय प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी ने बीबीसी को बताया, “कुछ अज्ञात हथियारबंदों ने साफी के इलाक़े में लड़कियों के एक स्कूल पर हथगोले फैंके जिस से स्कूल की इमारत क्षतिग्रस्त हो गई.”

उन्होंने आगे बताया, “इस घटना से दो दिन पहले इसी इलाक़े में कुछ हथियारबंदों ने लड़कियों और लड़कों के तीन स्कूलों को तबाह किया था.”

अधिकारी के अनुसार इन स्कूलों को विस्फोटकों से तबाह किया गया.

उन्होंने बताया कि हमलों की वजह से स्कूल पूरी तरह से तबाह हो गए हैं और उन में पढ़ाई नहीं हो रही है.

गिरफ्तारियाँ

क़बायली इलाक़ों में मौजूद अर्धसैनिक बलों ने कुछ इलाक़ो में छापे मारे और स्कूलों को तबाह करने के आरोप में 12 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

ग़ौरतलब है कि मोहमंद एजेंसी में पिछले कई महीनों से चमरपंथियों की कार्रवाईयाँ जारी हैं जबकि अधिकारों का कहना है कि मोहमंद एजेंसी को चरमपंथियों से सुरक्षित कर लिया गया है.

पिछले कुछ हफ्तों से मोहमंद और बाजौड़ एजेंसी के विभिन्न इलाक़ो में स्कूलों पर हमलों में फिर से बढ़ोतरी हुई है और उसी दौरान कई स्कूलों को तबाह किया गया है.

जिन इलाक़ों में स्कूलों को तबाह किया गया है वह अफग़ानिस्तान की सीमा से सटे हुए हैं.

अधिकारियों के अनुसार पिछले कुछ हफ्तों में मोहमंद एजेंसी के तबाह हुए स्कूलों की संख्या 57 तक पहुँच गई है जिस में 37 लड़कों और 20 लड़कियों के हैं.

संबंधित समाचार