जज के माता-पिता की हत्या

जावेद इक़बाल
Image caption जस्टिस जावेद इक़बाल के माता-पिता की लाहौर में हत्या कर दी गई.

पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट के एक वरिष्ठ जज जस्टिस जावेद इक़बाल के माता-पिता की हत्या कर दी गई है.

पुलिस के अनुसार जस्टिस जावेद इक़बाल के पिता मलिक अब्दुल हमीद अपनी पत्नी के साथ लाहौर के एक इलाक़े में रह रहे थे जहां दोनों की हत्या कर दी गई.

पंजाब के मुख्यमंत्री शहबाज़ शरीफ़ ने पत्रकारों को बताया कि जस्टिस जावेद इक़बाल के माता-पिता की हत्या की जांच के आदेश दे दिए गए हैं और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी इस मामले की जाँच कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चला सका है लेकिन पंजाब के क़ानून मंत्री राणा सनाउल्लाह के अनुसार किसी ने मुंह पर तकिया रख कर दंपति की हत्या कर दी.

उन्होंने आगे बताया, “दंपति के कमरे का सामान बिखरा हुआ था जिस से संदेह होता है कि इस घटना को डकैती का रंग देने की कोशिश की गई है और हो सकता है कि डकैती की वारदात न हुई हो.”

केंद्रीय और प्रांतीय सरकारों ने इस घटना की जाँच के आदेश दिए हैं और जाँच दल भी गठित किए गए हैं.

संवेदनशील मुक़दमे

माना जा रहा है कि जस्टिस जावेद इक़बाल उन लोगों के मुक़दमों की सुनवाई कर रहे थे जो पिछले कई सालों से ग़ायब है और ग़ायब लोगों के परिजनों का कहना है कि उन लोगों का पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसियों ने अपहरण किया है.

राणा सनाउल्लाह से जब पत्रकारों ने पूछा कि क्या इस घटना का संबंध संवेदनशील मुक़दमों से है तो उन्होंने कहा कि सभी पहलुओं की जाँच की जा रही है.

इस घटना के बाद वकीलों ने देशव्यापी शोक दिवस मनाने की घोषणा की है.

संबंधित समाचार