जासूसी के आरोप में तीन की हत्या

  • 1 मार्च 2011
स्वात
Image caption इस से पहले स्वात घाटी में भी कई लोगों की हत्या कर दी गई थी.

पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े उत्तर वज़ीरिस्तान में संदिग्ध तालिबान विद्रोहियों ने अमरीका के लिए जासूसी करने के आरोप में तीन लोगों की हत्या कर दी है.

स्थानीय प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी ने पेशावर स्थित बीबीसी संवाददाता दिलावर ख़ान वज़ीर को बताया कि उत्तर वज़ीरिस्तान के मुख्य शहर मीरानशाह में सड़क के किनारे स्थानीय लोगों को तीन शव मिले जिनकी गोलीमार कर हत्या कर दी गई.

उन्होंने कहा कि मरने वाले स्थानीय नागरिक हैं और शवों के साथ एक पत्र भी मिला है जिसमें कहा गया है कि ये लोग इस इलाक़े में अमरीका के लिए जासूसी करते थे इसलिए उनकी हत्या कर दी गई.

पत्र में चेतावनी दी गई है कि अमरीका के लिए जो भी जासूसी करेगा उसका यही परिणाम निकलेगा.

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक उन लोगों को कई गोलियाँ मारी गई हैं और ऐसा लग रहा है कि उन्हें मंगलवार की सुबह ही मार दिया गया है. स्थानीय लोगों का कहना है कि उन तीन लोगों को करीब एक सप्ताह पहले मीरानशाह के पास कुछ अज्ञात लोगों ने अगवा किया था.

सिलसिला फ़िर शुरु

पिछले कुछ महीनों से उत्तर वज़ीरिस्तान में जासूसी के आरोप में हत्याओं की घटनाएँ कम हुईं थीं लेकिन अब कुछ दिनों से ये सिलसिला एक बार फिर शुरु हो गया है.

ग़ौरतलब है कि उत्तर और दक्षिण वज़ीरिस्तान में इस प्रकार की घटनाओं में करीब तीन सौ से अधिक सरकारी कर्मचारियों और सरकार के समर्थक क़बायली नेताओं और पत्रकारों की हत्या हो चुकी है.

करीब दो साल पहले उत्तर वज़ीरिस्तान में स्थानीय तालिबान और सरकार के बीच एक शांति समझौता हुआ था जिसमें तालिबान ने आश्वासन दिया था कि इस प्रकार की हत्या की घटनाएँ नहीं होंगी.

लेकिन अब फिर से यह सिलसिला शुरु हो गया है और स्थानीय लोगों का कहना है कि इस इलाक़े में तालिबान विरोधियों को मारा जा रहा है.

संबंधित समाचार