पाकिस्तान: चरमपंथी हमले में सात सैनिक मरे

ख़ैबर इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption इस क्षेत्र में तालिबान और अल-क़ायदा का दबदबा है.

अधिकारियों के अनुसार उत्तर-पश्चिम पाकिस्तान में हुए चरमपंथी हमलें में कम से कम सात सैनिक मारे गए हैं.

ये सैनिक तब मारे गए जब क़रीब सौ लड़ाकों ने अफ़गानिस्तान की सीमा पर स्थित उनकी चौकी पर धावा बोल दिया.

ये घटना पाकिस्तान के ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह प्रांत के अप्पर डिर ज़िले की है.

स्थानीय अधिकारियों ने कहा है कि हमलावरों ने फ़ौजी वर्दी पहनी हुई थी और उन्होंने वुधवार सुबह अफ़गानिस्तान से पाकिस्तान की सीमा में प्रवेश किया था.

घटनास्थल से आ रही एक ख़बर के अनुसार चरमपंथियों ने कुछ स्कूलों और पुलों को भी तबाह कर दिया है.

इस क्षेत्र में अल-क़ायदा और तालिबान के हमले होते रहते हैं और यहां पाकिस्तानी सेना ने भी कई बार चरमपंथियों के ख़िलाफ़ अभियान चलाए हैं.

एक स्थानीय अधिकारी रहीम गुल ने बीबीसी को बताया कि बुधवार को हुआ ये हमला दोपहर बारह बजे के क़रीब शुरू हुआ. कुछ ख़बरों के अनुसार शालतालो इलाक़े में अब भी गोलीबारी सुनी जा सकती है.

ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह प्रांत का अप्पर डिर ज़िला अफ़गानिस्तान के कुनार प्रांत से जुड़ा हुआ है. ये पर्वतीय क्षेत्र है जहां तालिबान और अल-क़ायदा के लड़ाके छिपे रहते हैं.

संबंधित समाचार