पाक में महिला को निर्वस्त्र घुमाया गया

महिलाएँ

पाकिस्तान के ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह प्रांत में कुछ अज्ञात लोगों ने एक 50 वर्षीय महिला को गाँव में निर्वस्त्र घुमाया और हिंसा का निशाना बनाया.

महिला पर आरोप है कि उनके बेटे राशिद के पड़ोस की एक महिला के साथ संबंध थे और महिला के पति मोहम्मद सलमान का कहना है कि इसी संबंध से उनकी पत्नी गर्भवती हो गई हैं.

ज़िला हरीपुर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मोहम्मद अली गंडापुर ने बीबीसी को बताया कि यह घटना नीलौरबाला गाँव में घटी.

अधिकारियों का कहना है कि महिला के बेटे और दो अन्य लोगों के इस महिला से कथित संबंध थे.

उन्होंने बताया कि यह मामला गाँव के पंचायत में ले जाया गया जिसमें पंचायत ने उन परिवारों को तलब कर लिया.

पुलिस अधिकारी के मुताबिक़ पंचायत ने यह तय किया कि मोहम्मद सलमान अपनी पत्नी को तलाक़ देगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ और मोहम्मद सलमान ने अपने तीन साथियों के साथ शहनाज़ बीबी के घर पर धावा बोल दिया.

'हथियार के दम पर'

अधिकारियों के अनुसार सलमान और उनके साथी जब घर में दाख़िल हुए तो उस समय उनका बेटा राशिद मौजूद नहीं था. हमलावर शहनाज़ को घर से घसीटते हुए बाज़ार ले गए जहाँ उनको निर्वस्त्र किया और हिंसा का निशाना बनाया.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सलमान और उनके साथियों ने हथियारों के ज़ोर पर शहनाज़ बीबी को गाँव में निर्वस्त्र घुमाया.

ग़ौरतलब है कि हरीपुर का गाँव नीलौरबाला राजधानी इस्लामाबाद से करीब 100 किलोमीटर की दूरी पर है.

स्थानीय पुलिस के मुताबिक़ अभियुक्तों के पास हथियार थे इसलिए लोगों ने उन्हें रोकने की कोशिश नहीं की.

पुलिस अधिकारी मोहम्मद अली ने बताया कि हिंसा का निशाना बनी महिला शहनाज़ बीबी, उनके बेटे राशिद और उनके रिश्तेदार काज़िम के ख़िलाफ़ कोई मुक़दमा दर्ज नहीं है.

'दो गिरफ़्तार'

Image caption पाकिस्तान में महिलाओं के प्रति ज़्यादती की घटनाएँ बढ़ी हैं

उन्होंने कहा कि पुलिस ने महिला को निर्वस्त्र करने और उन पर हिंसा करने के आरोप में मोहम्मद सलमान सहित सात लोगों के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज कर लिया है.

मोहम्मद अली ने बताया कि इस मुक़दमे में अभी तक दो लोगों को गिरफ़्तार कर लिया गया है जबकि पुलिस मुख्य आरोपी मोहम्मद सलमान को तलाश कर रही है.

स्थानीय पुलिस ने बताया है कि शहनाज़ बीबी का पति लाहौर में एक निजी स्कूल में सुरक्षा गार्ड है जबकि मोहम्मद सलमान भी लाहौर में काम करते हैं.

पुलिस के मुताबिक़ शहनाज़ बीबी को सुरक्षा प्रदान की गई है और दो पुलिसकर्मी उनकी सुरक्षा के लिए तैनात किए हैं जबकि गाँव में किसी अप्रिय घटना से बचने के लिए पुलिसकर्मी तैनात कर दिए गए हैं.

ग़ौरतलब है कि कुछ साल पहले पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में इस प्रकार की एक घटना हुई थी जिसमें मुख़्ताराँ माई को सामूहिक बलात्कार का निशाना बनाया गया था और उन्हें निर्वस्त्र कर गाँव में घुमाया गया था.

संबंधित समाचार