पाकिस्तान: नौसेना अधिकारियों पर कार्रवाई

  • 4 अगस्त 2011
मेहरान इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption पाकिस्तान के मेहरान बेस में हमला हुआ था जिसमें 10 सुरक्षाकर्मी मारे गए थे

पाकिस्तानी सेना का कहना है कि कराची में नौसेना के ठिकाने पर हुए हमले के आरोप में नौसेना के तीन अधिकारियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई शुरु कर दी गई है.

एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि कराची में नौसेना के ठिकाने मेहरान बेस पर हुए हमले की जाँच पूरी कर ली गई है और उसकी सिफ़ारिशों पर अमल किया जा रहा है.

ग़ौरतलब है कि 22 मई को कुछ हमलावरों ने कराची स्थित नौसेना के मेहरान बेस में घुस कर हमला किया था जिसमें 10 सुरक्षाकर्मी मारे गए थे.

इस हमले की जाँच के लिए नौसेना के प्रमुख ने आदेश दिए थे और जाँच दल ने तीन वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के ख़िलाफ़ मुक़दमा चलाने की सिफारिश की है.

सेना के प्रवक्ता मेजल जनरल अतहर अब्बास ने बीबीसी को बताया कि वे इस समय केवल इतना कह सकते हैं कि जाँच दल ने अपनी जाँच पूरी कर ली है और उस पर अमल किया जा रहा है.

पाकिस्तानी समाचार पत्रों ने इस ख़बर को प्रमुखता से प्रकाशित किया है जिसकी सेना ने पुष्टि भी कर दी है.

कार्रवाई

इससे पहले 30 मई को ख़ुफ़िया एजेंसियों के अधिकारियों ने लाहौर से मेहरान बेस पर हमले करने के आरोप में नौसेना के पूर्व कमांडर कामरान अहमद और उनके भाई को गिरफ़्तार किया था.

कामरान अहमद को दस साल पहले नौसेना से निकाल दिया गया था.

मेहरान बेस पर हुए हमले के बाद पाकिस्तान की नौसेना की क्षमता पर गंभीर सवाल उठाए जा रहे थे.

ग़ौरतलब है कि अक्तूबर 2009 में पाकिस्तानी सेना के मुख्यालय पर हमला हुआ था जिसमें कई सैन्य अधिकारियों को बंधक बना लिया था.

उन हमलों में 23 लोग मारे गए थे और उस वक़्त कहा जा रहा था कि हमलावरों को मुख्यालय के भीतर से मदद मिली थी.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार