पाकिस्तान में स्काउट बलों का अपहरण

  • 10 अक्तूबर 2011
पाकिस्तानी सेना इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption क़बायली इलाक़ों में सेना की उपस्थिति के बावजूद पिछले कई महीनों से अग़वा की घटनाओं में बढ़ौतरी हुई है.

पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े कुर्रम एजेंसी में कुछ अज्ञात चरमपंथियों ने स्काउट बल के तीन सुरक्षाकर्मियों का अपहरण कर लिया है.

स्थानीय प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि स्काउट बल के तीन सुरक्षाकर्मी ज़िला हंगू के तालुक़ा टुल से एक निजी वाहन में कुर्रम एजेंसी के इलाक़े अलीज़ई जा रहे थे कि रास्ते में कुछ अज्ञात चरमपंथियों ने उन्हें अग़वा कर लिया.

अधिकारी के मुताबिक़ चरमपंथी सुरक्षाकर्मियों को किसी अज्ञात स्थान पर ले गए और तीनों सुरक्षाकर्मियों का संबंध टुल स्काउट से है.

पेशावर स्थित बीबीसी संवददाता दिलावर ख़ान वज़ीर का कहना है कि घटना के बाद स्थानीय प्रशासन ने चरमपंथियों से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन अभी तक कोई कामयाबी नहीं मिल सकी है.

'तालिबान पर शक'

इस घटना की अभी तक किसी गुट ने ज़िम्मेदारी नहीं ली है लेकिन अधिकारियों का कहना है कि इस प्रकार की अपहरण की घटनाओं में तालिबान चरमपंथी लिप्त होते हैं.

ग़ौरतलब है कि करीब एक महीने पहले चरमपंथियों ने स्कूली छात्रों को अग़वा किया था और तालिबान चरमपंथियों ने उसकी ज़िम्मेदारी भी ली थी लेकिन अभी तक वह छात्र रिहा नहीं हो सके हैं.

दूसरी ओर ख़बैर पख़्तूनख़्वाह प्रांत के ज़िले बन्नू में पुलिस का कहना है कि कुछ अज्ञात लोगों ने शहर के विभिन्न इलाक़ों में रॉकेटों से हमले किए और एक रॉकेट वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के घर में गिरा, जिससे एक पुलिसकर्मी मारा गया.

पुलिस के मुताबिक़ उसने हमलावरों की तलाश शुरु कर दी है, लेकिन अभी तक किसी व्यक्ति को गिरफ़्तार नहीं किया गया है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार