चरमपंथी हमले में नौ सुरक्षाकर्मी मारे गए

पाक सुरक्षाकर्मी इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption ख़ैबर एजेंसी में पिछले महीने भी चरमपंथियों के हमले में तीन सुरक्षाकर्मी मारे गए थे.

पाकिस्तान के अधिकारियों का कहना है कि क़बायली इलाक़े ख़ैबर एजेंसी में चरमपंथियों के हमले में नौ सुरक्षाकर्मी मारे गए और तीन अन्य घायल हो गए हैं.

पेशावर स्थित एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि सुरक्षाकर्मी आकाख़ेल इलाक़े में गश्त कर रहे थे कि कुछ अज्ञात चरमपंथियों ने उन पर भारी हथियारों से हमला कर दिया.

उन्होंने कहा कि इस हमले में नौ सुरक्षाकर्मी मारे गए जबकि तीन अन्य घायल हो गए. घायलों को पेशावर के फ़ौजी अस्पताल में भर्ती किया गया.

उनके मुताबिक़ सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई में 16 चरमपंथी भी मारे गए लेकिन स्वतंत्र सूत्रों से इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है.

'सेना का बड़ा नुक़सान'

स्थानीय लोगों ने टेलीफ़ोन पर बीबीसी को बताया कि यह हमला सुरक्षाबलों की चौकी पर हुआ जिसमें व्यापक स्तर पर नुक़सान की ख़बरें हैं.

उन्होंने कहा कि दर्ज़नों सशस्त्र चरमपंथियों ने सोमवार को शाम के वक़्त आकाख़ेल के इलाक़े में स्थित सुरक्षाबलों की एक चौकी पर चारों ओर से हमला किया.

स्थानीय लोगों के मुताबिक़ चरमपंथियों का हमला इतना भीषण था कि सुरक्षाकर्मियों को संभलने का मौक़ा ही नहीं मिला.

ग़ौरतलब है कि ख़ैबर एजेंसी अफ़ग़ानिस्तान की सीमा से सटा हुआ पाकिस्तान का क़बायली इलाक़ा है और पिछले कुछ समय से इसी इलाक़े में सुरक्षाबलों की चौकियों पर हमलों में बढ़ौतरी हुई है.

पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े तालिबान चरमपंथियों के गढ़ माने जाते हैं और सेना पिछले कई सालों से चरमपंथियों से संघर्ष में व्यस्त है.

संबंधित समाचार