पाकिस्तान में नेटो के 20 से ज़्यादा ट्रक नष्ट

नेटो के ट्रक बने निशाना इमेज कॉपीरइट AP
Image caption पाकिस्तान ने नेटो को अपनी ज़मीन से होकर जाने वाली रसद के रास्ते बंद कर दिए हैं

पाकिस्तान में चरमपंथियों ने रॉकेट हमले में अमरीका और नेटो सैनिकों को ईंधन और रसद ले जाने वाले 20 से ज़्यादा ट्रकों को नष्ट कर दिया है.

क्वेटा शहर में 40 से ज़्यादा ट्रक सारे सामान के साथ लदे हुए एक टर्मिनल में खड़े थे जिस पर चरमपंथियों ने निशाना लगाया.

दरअसल पिछले दिनों अफ़ग़ानिस्तान की सीमा से हुए नेटो के एक हमले में 24 पाकिस्तानी सैनिकों की मौत के बाद से ही पाकिस्तान ने नेटो फ़ौजों को रसद पहुँचाने वाला रास्ता बंद कर दिया है.

समाचार एजेंसी एएफ़पी ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मलिक अरशद के हवाले से ख़बर दी है कि हथियारबंद लोगों ने नेटो के तेल के ट्रकों पर गोलियाँ चलाईं और रॉकेट दागे. उससे निकली चिंगारियों ने आस-पास के 20 से ज़्यादा ट्रकों को अपनी चपेट में ले लिया.

अरशद ने बताया, "20 से ज़्यादा गाड़ियों से लपटें निकल रही थीं. हमें घायलों या मरने वालों के बारे में अभी पता नहीं है क्योंकि लपटें काफ़ी तेज़ हैं."

हमले के तुरंत बाद ही अग्निशमन दस्ता और इमरजेंसी सेवाओं के लोग वहाँ पहुँच गए हैं.

भयानक आग

अर्द्धसैनिक बलों ने इलाक़े को घेर लिया है और इतनी बड़ी आग को बुझाने की कोशिश हो रही है. ट्रकों से आग की लपटें आसमान को छूने की कोशिश कर रही हैं और उनसे निकल रहा काला धुआँ आस-पास फैल गया है.

नेटो के रोके गए तेल टैंकरों और रसद के ट्रकों को वहाँ पर रोका गया था. फ़िलहाल किसी ने हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली है.

पाकिस्तान-अफ़ग़ानिस्तान सीमा पर पाकिस्तानी सैनिकों की नेटो हमले में मौत के बाद से ही अमरीका और पाकिस्तान के रिश्ते काफ़ी नाज़ुक़ दौर से गुज़र रहे हैं.

पाकिस्तान ने नेटो की गाड़ियों को अफ़ग़ानिस्तान तक पहुँचाने वाले रास्ते बंद कर दिए हैं, उसने अफ़ग़ानिस्तान के भविष्य पर चर्चा के लिए जर्मनी के बॉन शहर में आयोजित सम्मेलन का भी बहिष्कार किया था और अमरीका अपना शम्सी हवाई अड्डा ख़ाली करने की चेतावनी भी दे दी है.

संबंधित समाचार