बाहरी शक्ति को हस्तक्षेप की अनुमति नहीं: अहमदीनेजाद

करज़ई, ज़रदारी और महमूद अहमदीनेजाद इमेज कॉपीरइट Reuters

ईरानी राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद ने कहा है कि क्षेत्र में किसी बाहरी शक्ति को हस्तक्षेप की अनुमति नहीं दी जाएगी.

अफगानिस्तान, पाकिस्तान और ईरान के बीच त्रिपक्षीय वार्ता की समाप्ति पर इस्लामाबाद में तीनों देशों के राष्ट्रपतियों की ओर से संयुक्त घोषणा पर हस्ताक्षर के बाद अहमदीनेजाद ने ये बयान दिया.

एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने ने कहा कि क्षेत्र की समस्याएँ बाहरी शक्तियों की वजह से हैं और तीनों देशों को मिलकर इन समस्याओं का समाधान निकालना होगा.

राष्ट्रपति भवन में शुक्रवार को त्रिपक्षीय वार्ता की अध्यक्षता पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी ने की और इसमें ईरान के राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद और अफगान राष्ट्रपति हामिद करज़ई भी शामिल हुए.

अहमदीनेजाद ने कहा कि क्षेत्र की समस्याएँ बाहरी शक्तियों की ओर से थोपी गई हैं और केवल एकजुट हो कर ही उसका हल निकाला जा सकता है.

उन्होंने किसी विश्व शक्ति का नाम लिए बिना कहा कि सभी समस्याएँ बाहर से आ रही हैं और उनका उद्देश्य अपना लक्ष्य प्राप्त करना है और वही शक्तियाँ तीनों देशों को विकास करता नहीं देखना चाहतीं.

साझा हित

उन्होंने कहा कि तीनों देशों के वरिष्ठ नेता क्षेत्र में समस्याओं के समाधान के लिए प्रतिबद्ध हैं और उन्हें उम्मीद है कि साझा हित हासिल करने के लिए कोशिशें की जाएँगी.

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी ने पत्रकारों को बताया कि ईरान और पाकिस्तान को एक दूसरे की जरूरत है और किसी अंतरराष्ट्रीय दबाव से पाकिस्तान और ईरान के संबंध प्रभावित नहीं हो सकते.

ईरान और पाकिस्तान के बीच गैस पाइप लाइन परियोजना पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि यह परियोजना किसी भी प्रकार से अंतरराष्ट्रीय दबाव से प्रभावित नहीं होगा.

उन्होंने कहा कि दुनिया को इस योजना से संबंधित अगर कोई चिंताएँ हैं तो उन्हें दूर करने के लिए पाकिस्तान कोशिशें कर रहा है.

इससे पहले त्रिकोणीय शिखर वार्ता में क्षेत्र की मौजूदा स्थिति, तालिबान से बातचीत और आतंकवाद के खिलाफ चल रहे युद्ध जैसे विषयों सहित अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर बातचीत हुई.

पाकिस्तान के सरकारी टीवी के अनुसार इस सम्मेलन का उद्देश्य साझा चुनौतियों से निपटने के लिए संयुक्त रणनीति बनाना था.

इससे पहले गुरुवार को तीनों देशों के नेताओं ने अलग अलग बैठकों में क्षेत्रीय शांति, स्थिरता, आतंकवाद के खात्मे के लिए कोशिशों में सहयोग और आर्थिक संबंधों को और मजबूत करने पर बल दिया गया था.

अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति हामिद करज़ई गुरुवार सुबह और ईरानी राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद दोपहर के बाद इस्लामाबाद पहुंचे थे. दोनों राष्ट्रपतियों ने राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी और प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी से मुलाकात की.

संबंधित समाचार