'बलोच लोगों को आत्मनिर्णय का हक़ मिले'

बलूचिस्तान इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption पाकिस्तान के बलूचिस्तान के डेरा बुगटी में बलोच पृथकतावादी लड़ाके

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने शनिवार को अमरीकी संसद में पेश उस प्रस्ताव की निंदा की है जिसमे कहा गया है कि पाकिस्तान के बलोच लोगों को देश से स्वतंत्र होने का विकल्प दिया जाए.

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने शनिवार को कराची में कहा, "यह संकल्प हमारे संप्रभुता का उल्लंघन है और हम इस की निंदा करते हैं."

अमरीका में रिपब्लिकन सांसद दाना रोहरबैकर ने संसद में पेश एक प्रस्ताव में कहा है कि बलूचिस्तान के लोगों को ईरान, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच में से चुनने की आज़ादी दी जानी चाहिए.

बलोच लोगों की आबादी इन तीन देशों में फ़ैली हुई है. दक्षिणपश्चिम पाकिस्तान में फैले बलूचिस्तान से पाकिस्तान तेल खनिज और गैस प्राप्त होते हैं. यह इलाका लंबे समय से बलोच पृथकतावादी आंदोलन और तालेबान की कार्रवाईयों का केंद्र है.

अमरीकी सांसद दाना रोहरबैकर ने शुक्रवार को दो अन्य साथियों के साथ संसद में यह प्रस्ताव पेश किया था. इस प्रस्ताव में बलोच लोगों को आत्मनिर्णय का अधिकार देने की बात कही गयी है.

हालांकि अभी तक ऐसे कोई संकेत नहीं हैं कि अमरीकी संसद में रोहरबैकर के प्रस्ताव को बहुत अधिक समर्थन प्राप्त हुआ है. रोहरबैकर ने एक अमरीकी कार्रवाई में ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद भी संसद में एक ऐसा प्रस्ताव पेश किया था. उस प्रस्ताव में कहा गया था कि पाकिस्तान को मिलने वाली तमाम अमरीकी सहायता रोक दी जाए.

पाकिस्तान की विदेश मंत्री हिना रब्बानी खर ने एक अन्य बयान में रोहरबैकर के प्रस्ताव को," दोनों देशों के लोगों के बीच अविश्वास पैदा करने के उद्देश्य से किया गया" प्रस्ताव बताया.

खर ने आशा जताई कि "इस कदम को अमरीकी संसद में समर्थन नहीं मिलेगा और बड़ी संख्या में सांसद अमरीका-पकिस्तान के बीच के मैत्रीपूर्ण संबंधों को जारी रखने की कोशिश करेगें."

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की डेमोक्रेटिक पार्टी ने रोहरबैकर उपसमिति के सामने अपना कोई भी सदस्य भेजने से इनकार कर दिया. डेमोक्रेटिक पार्टी ने कहा है कि बलूचिस्तान पाकिस्तान अभिन्न अंग है.

दूसरी तरफ अमरीकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता विक्टोरिया नूलैंड ने कहा है "हम बलूचिस्तान में सभी पक्षों को समस्या को शांतिपूर्ण तरीके से राजनितिक स्तर पर सुलझाने के लिए प्रोत्साहित करेगें."

संबंधित समाचार