'अमरीका पकिस्तान के शत्रु एक हैं'

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption क्लिंटन ने कहा कि अमरीका पाकिस्तान के साथ ईमानदारना और पारस्परिक रूप से लाभप्रद संबंध का पक्षधर है

अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि अमरीका और पाकिस्तान दोनों का हित आतंकवाद को खत्म करने में है.

हिलेरी क्लिंटन का ये बयान अमरीका के साथ संबंधों में सुधार और नेटो की आपूर्ति की बहाली पर विचार के लिए मंगलवार को इस्लामाबाद में संसद के संयुक्त अधिवेशन के दौरान पेश सिफारिशों के 24 घंटे बाद सामने आए हैं.

हिलेरी क्लिंटन ने बुधवार को वाशिंगटन के दौरे पर आए अफगान विदेश मंत्री ज़ालमई रसूल के साथ एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया.

इस अवसर पर पाकिस्तान की संसद में पाक अमरीका संबंधों पर होने वाली बहस और पाकिस्तानी सांसदों की मांगों के बारे में प्रश्न पूछे गए.

लेकिन समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार उन्होंने कहा कि सिफारिशों की रिपोर्ट सामने आने से पहले इन सवालों का औपचारिक जवाब नहीं देना चाहेंगी.

लेकिन उनका कहना था कि अमरीका पाकिस्तान के साथ ईमानदारना और पारस्परिक रूप से लाभप्रद संबंध का पक्षधर है.

क्लिंटन ने कहा "हम समस्याओं और चुनौतियों से निपट रहे हैं और हमें विश्वास है कि दोनों देशों के हितों एक हैं. हमें यह भी विश्वास है कि हमारे दुश्मन भी एक हैं."

हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि अमरीका मानता है कि आतंकवाद के उन्मूलन के लिए सरकार के सभी प्रयासों का समर्थन किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि जो हमलावर जो अमरीकी सैनिकों पर हमले करते हैं वही हजारों पाकिस्तानियों की मौत और विकलांगता का कारण भी बनते हैं.

संबंधित समाचार