हिना रब्बानी खर को नहीं हटाया जा रहा: पाक सरकार

हिना रब्बानी खर इमेज कॉपीरइट AP
Image caption हिना रब्बानी खर पाकिस्तान विदेश मंत्रालय को चलाने वाली पहली और सबसे कम उम्र की महिला हैं.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय ने मीडिया में आ रही उन तमाम ख़बरों का खंडन किया है जिनमे कहा गया है कि विदेश मंत्री हिना रब्बानी खर को एक 'नई टीम' के गठन के चलते हटाया जा सकता है.

ख़बरों में कहा गया था कि विदेश मंत्री ने कुछ विरोधाभासी बयान दिए थे और उन्हें पद से हटाया जा सकता है.

प्रधानमंत्री युसूफ रजा गिलानी के कार्यालय से देर शाम जारी एक बयान में कहा गया, "मीडिया ने प्रधानमंत्री के उस बयान को गलत तरीके से लिया है जिसमे उन्होंने एक 'नई टीम' के गठन की बात कही थी. दरअसल प्रधानमंत्री का 'नई टीम' से इशारा नए विदेश सचिव और भारत के लिए नए उच्चायुक्त चुने गए सलमान बशीर से था." प्रधानमंत्री गिलानी के प्रवक्ता ने इस बयान में यह भी कहा है कि हिना रब्बानी खर के विदेश मंत्री पद से हटाए जाने की खबरें आधारहीन और कयास से भरी हैं.

'खर पर गिरेगी गाज'

पाकिस्तान समेत भारतीय मीडिया में भी ऐसी खबरें आई हैं कि अमरीका के एक राजनयिक से मुलाकात के दौरान राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के विरोधाभासी बयान देने पर पाकिस्तान की विदेश मंत्री हिना रब्बानी खर को विदेश मंत्री पद से हटाया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने अमरीका में उच्च शिक्षा हासिल की है.

ख़बरों में यह भी कहा गया था कि हिना रब्बानी खर को विदेश मंत्री पद से हटाकर किसी और विभाग की जिम्मेदारी दी जा सकती है.

दरअसल प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी की ओर से दिए गए एक बयान से हिना रब्बानी को विदेश मंत्री के पद से हटाने की अटकलें शुरू हुईं थीं.

गिलानी ने संवाददाताओं से बातचीत में यह कहकर सबको हैरत में डाल दिया था कि भारत के साथ कश्मीर जैसे मुद्दे को हल करने के लिए 'नई टीम' बातचीत करेगी.

हालांकि खुद प्रधानमंत्री गिलानी के प्रवक्ता के ताज़े बयान के बाद इन अटकलों पर विराम लग सकता है.

संबंधित समाचार