हक्कानी नेटवर्क को लेकर पाक पर दबाव: हिलेरी क्लिंटन

  • 17 अप्रैल 2012
हिलेरी क्लिंटन इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि उन्होंने पाकिस्तानी विदेश मंत्री से काबुल पर हुए हमलों के बाद बात की है.

अमरीका ने कहा है कि वो पाकिस्तान पर हक्कानी नेटवर्क को काबू में करने के लिए दबाव बनाता रहेगा.

अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि काबुल पर हुए हमलों में हक्कानी नेटवर्क का हाथ होने के संकेत मिले हैं.

हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि पिछले साल अक्तूबर में पाकिस्तान की यात्रा के दौरान उन्होंने इस गुट को काबू में करने के लिए दबाव डाला था.

अमरीकी टीवी चैनल फॉक्स न्यूज़ के अनुसार हिलेरी क्लिंटन ने पत्रकारों से कहा, “मैं लगातार उन्हें ये बताती रहूंगी और इसके लिए दबाव भी बनाती रहूंगी.”

फ़ोन पर चर्चा

इस बीच अफ़गानिस्तान के गृह मंत्री बिस्मिल्लाह मोहम्मदी के अनुसार काबुल पर हमले के दौरान पकड़ गए चरमपंथी ने बताया है कि हमले के पीछे अल-क़ायदा के हक्कानी नेटवर्क का हाथ है.

हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि उन्होंने काबुल पर हमलों के बाद पाकिस्तान की विदेश मंत्री हिना रब्बानी खर से अफ़गानिस्तान में शांति और स्थिरता के लिए मिलकर काम करने की गुजारिश की है.

क्लिंटन और खर के बीच टेलीफ़ोन पर बातचीत पाकिस्तान में उस अहम बैठक से पहले हुई है जिसमें अफ़गानिस्तान में नेटो बलों के लिए रसद की आपूर्ति को बहाल करने पर चर्चा होगी.

पाकिस्तान की कैबिनेट की रक्षा समिति की बैठक की अध्यक्षता पाकिस्तानी प्रधानमंत्री युसूफ़ रज़ा करेंगे.

इस बैठक में सरकार वरिष्ठ पदाधिकारियों के अलावा सेना प्रमुख अशफ़ाक़ परवेज़ कियानी और पाकिस्तानी वायु सेना और नौसेना के प्रमुख भी हिस्सा लेने वाले हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार